States

Jewar Film City: जेवर में बनने वाली फिल्म सिटी की सभी अचड़नें खत्म, अब आई है ये खबर

Jewar Film City: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ड्रीम प्रोजेक्ट में जेवर में बनने वाली फिल्म सिटी शामिल है. यही वजह है कि अधिकारी भी इस फिल्म सिटी के निर्माण के लिए फूंक-फूंक कर कदम रख रहे हैं. फिल्म सिटी के निर्माण में सभी अड़चनें अब समाप्त हो चुकी हैं क्योंकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नोएडा आगमन से पहले फिल्म सिटी को हरी झंडी दे दी है. फिल्म सिटी के अनुमोदन का कार्य शुरू हो गया है और 8 दिसंबर को फिल्म सिटी के लिए ऑनलाइन विड खोली जाएगी. इस दौरान आनेवाली अड़चनों पर 8 दिसंबर को बैठक कर अंतिम निर्णय लिया जाएगा.

बता दें फिल्म सिटी का निर्माण तीन चरणों में किया जाएगा और 2029 फिल्म सिटी पूरी तरह से बनकर तैयार होगी. पहले चरण में फिल्म स्टूडियो, खुला एरिया, एम्यूजमेंट पार्क, विला आदि तैयार किए जाएंगे. अथॉरिटी अधिकारियों का कहना है कि पहले ही चरण में फिल्म शूटिंग से जुड़ा 80 प्रतिशत हिस्सा तैयार कर लिया जाएगा. नोएडा फिल्म सिटी में थ्री डी स्टूडियो होंगे. 360 डिग्री पर घूमने वाले सेट होंगे. इसके साथ ही साउंड रिकॉर्डिंग, एडिटिंग व एनिमेशन स्टूडियो भी बनाए जाएंगे. फि‍ल्म विश्वविद्यालय भी बनेगा जहां पढ़ाई के साथ साथ फिल्मों से जुड़े सब्जेक्ट पर शोध होगा. टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए विशेष स्टूडियो बनाए जाएंगे. फिल्म शूटिंग के लिए बनाए जाने वाले इन्फ्रास्ट्रक्चर को इस तरह से बनाया जाएगा, ताकि लोग इसे देखने आ सकें. यहां पर कॉमन फैसिलिटी सेंटर भी बनेगा जहां फिल्म से जुड़ी हुई सारी सुविधाएं मिलेंगी. फिल्म सिटी में शूटिंग के लिए आने वाले अभिनेता और स्टाफ के लिए होटल बनाया जाएगा.  

ग्रेटर नोएडा में बनने वाली फिल्म सिटी करीब 1000 एकड़ में बनाई जाएगी जिसकी कुल लागत करीब 10 हजार करोड़ रुपए होगी. इस फिल्म सिटी के बनने से पश्चिमी उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि आसपास के राज्यों की प्रतिभाओं को भी अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिलेगा. इस फिल्म सिटी के निर्माण से जो क्षेत्रीय प्रतिभाएं हैं वह निखर कर सामने आएंगीं. साथ ही उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान, उत्तराखंड, हिमाचल जैसे राज्यों के युवाओं को रोजगार के नए अवसर भी उपलब्ध होंगे. फिल्म सिटी की स्थापना के लिए भूमि अर्जन, सर्वे, कन्सल्टेन्ट के चयन के लिए यमुना एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण को नोडल एजेंसी नामित किए जाने का निर्णय लिया गया है. प्रदेश की इस पहली फिल्म सिटी में विश्वस्तरीय आधुनिक टेक्नोलॉजी को शामिल किया जाएगा. फिल्म सिटी का एक बड़ा हिस्सा डिजिटल टेक्नोलॉजी से भी जुड़ा होगा. यीडा के सेक्टर-21 में बनाई जाने वाली इस फिल्म सिटी को इंफोटेनमेन्ट सिटी कहा जाएगा.

Uddhav Thackeray Spine Surgery: महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे की हुई स्पाइन सर्जरी, जल्द मिलेगी अस्पताल से छुट्टी

Personal Data Protection Bill: प्रस्तावित निजी डेटा सुरक्षा कानून से सरकारी एजेंसियों को मिल सकती है छूट, संसदीय समिति की सिफारिश

क्षेत्रीय विधायक का कहना है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार जेवर में ताबड़तोड़ बड़ी परियोजनाओं का ऐलान कर क्षेत्र की जनता को बड़े तोहफे दे रहे हैं जिससे गौतम बुद्ध नगर ही नहीं बल्कि समूचे प्रदेश का विकास हो रहा है. इस फिल्म सिटी के शुरू हो जाने से क्षेत्रीय कलाकारों को मौका मिलेगा. जिससे प्रदेश ही नहीं बल्कि आसपास के राज्यों के युवा भी रोजगार के अवसर तलाश सकेंगे. माना जा रहा है कि इस फिल्म सिटी के निर्माण से पश्चिमी उत्तर प्रदेश ही नहीं बल्कि पूरे प्रदेश का विकास होगा. रोजगार के नए साधन उपलब्ध होने के साथ साथ क्षेत्रीय प्रतिभाओं को भी मौका मिलेगा. 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button