States

राम जन्मभूमि की सुरक्षा के लिए तैयार हुआ नया प्लान, दर्शनार्थियों को मिलेगी ये सुविधाएं

Ayodhya News: अयोध्या की सुरक्षा को लेकर नए सिरे से खाका खींचा जा रहा है इसमें राम जन्मभूमि परिसर के साथ- साथ सभी प्रमुख मंदिरों और पंचकोसी परिक्रमा मार्ग की परिधि के भीतर तक के दायरे को शामिल किया गया है. ऐसा पहली बार हुआ है कि रामजन्मभूमि की सुरक्षा को लेकर होने वाली सुरक्षा परिषद की बैठक में एक विस्तृत सुरक्षा प्लान पर चर्चा हुई है. इसमें पर्यटकों और दर्शनार्थियों की लगातार बढ़ती संख्या को देखते हुए श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों के साथ उच्च अधिकारियों ने गहन मंत्रणा की. इसी के साथ रामजन्मभूमि मंदिर में दर्शन अवधि बढ़ाने और आवागमन के लिए अन्य मार्ग निर्माण करने को लेकर भी ट्रस्ट को सुझाव दिए गए है.

कड़ी होगी रामजन्मभूमि की सुरक्षा

दरअसल पहले राम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा का मूल बिंदु वो अस्थाई राम मंदिर था जहां भगवान राम लल्ला विराजमान है. लेकिन अब जहां भव्य मंदिर बन रहा है उस स्थल की सुरक्षा के साथ-साथ पूरी राम जन्म भूमि परिसर की सुरक्षा के लिए प्लान तैयार किया जा रहा है. इसमें दर्शनार्थियों की बढ़ती संख्या का विशेष ध्यान रखा जा रहा है. इसके लिए एक अत्याधुनिक और हाईटेक कंट्रोल रूम की स्थापना के साथ-साथ सुरक्षा व्यवस्था में ऐसा लचीलापन है जिससे समय-समय पर उसे आसानी से अपग्रेड किया जा सके. यही नहीं सुरक्षा व्यवस्था के इस नए प्लान में 2023 के अंत में जब स्थाई राम मंदिर में पूजा अर्चना शुरू होगी उस समय दर्शनार्थियों की बढ़ी संख्या और उसके मुताबिक सुरक्षा प्लान को लगातार अपग्रेड करने की सोच भी शामिल है.

अयोध्या की सुरक्षा के लिए तैयार हुए प्लान

एडीजी जोन एसएन सावंत एडीजी जोन ने बताया कि अयोध्या की सुरक्षा हमारे लिए हमेशा महत्वपूर्ण रही है. उन्होंने कहा कि पहले एक ही जगह की सुरक्षा करनी थी लेकिन अब जहां पर भव्य मंदिर बन रहा है. वहां की सुरक्षा का स्ट्रक्चर हम लोग किस प्रकार इनबिल्ट कर सकते हैं .उसके बारे में हम लोग प्लान बना रहे हैं. और जो आवाजाही रहेगी उसको ध्यान में रखते हुए किस प्रकार का गैजेट्स इस्तेमाल होगा मैन पावर का किस तरह यूज किया जाएगा. इसपर विचार किया जा रहा है. इसके साथ ही  दर्शनार्थी को सकुशल दर्शन कराने के बारे में भी ट्रस्ट के लोगों के साथ उच्चाधिकारियों का विचार विमर्श हुआ है.

दर्शानार्थियों के लिए बनाए जाएंगे नए रास्ते

राम जन्मभूमि परिसर के अपग्रेडेड सुरक्षा प्लान को लेकर डीजीपी यूपी मुकुल गोयल और सुरक्षा से जुड़े उच्च अधिकारियों के साथ राम मंदिर ट्रस्ट के पदाधिकारियों की लंबी बैठक चली. इसमें दर्शनार्थियों की बढ़ती संख्या और नए सुरक्षा प्लान को लेकर चर्चा हुई. बैठक में उच्च अधिकारियों ने राम मंदिर ट्रस्ट को दर्शनार्थियों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दर्शन अवधि बढ़ाने के लिए भी कहा गया. बताया जा रहा है दर्शनार्थियों की सुविधा के लिए एक से अधिक दर्शन मार्ग खोलने को लेकर सहमति बन चुकी है. और इस पर शीघ्र ही अमल भी शुरू कर दिया जाएगा.  

सभी मंदिरों में मिलेगी सुरक्षा

एस एन सावंत ने ये भी बताया कि श्री राम जन्मभूमि ना सिर्फ हनुमानगढ़ी उसके साथ-साथ कनक भवन नागेश्वरनाथ और अन्य जितने धार्मिक स्थान है उसमें भी भीड़ दिन प्रतिदिन बढ़ रही है. उसके हिसाब से हम लोग किस प्रकार सुरक्षा परिधि को बढ़ाएंगे उसके लिए भी विचार किया जा रहा है. सुरक्षा के लिए प्लान निश्चित रूप से बदलेगा और अयोध्या के विकास के साथ-साथ सुरक्षा भी उसी तरह सुदृढ़ होना बहुत आवश्यक है.

ये भी पढ़ें

Delhi Pollution News: एयर क्वालिटी में सुधार के साथ दिल्ली में कंस्ट्रक्शन के काम पर से रोक हटी लेकिन…

Bihar News: सुशांत सिंह राजपूत के पीड़ित परिवार से मिले चिराग पासवान, दुर्घटना में मारे गए लोगों के बच्चों की पढ़ाई का उठाएंगे खर्च

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button