States

पीलीभीत: बुखार की चपेट में आने से एक ही परिवार के तीन बच्‍चों की मौत, मौत का कारण स्पष्ट नहीं

Pilibhit News: पीलीभीत में बुखार की चपेट में आकर तीन दिनों के भीतर भाई बहन सहित एक घर के तीन बच्चों की मौत के मामले में स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच के बाद भी किसी निष्कर्ष पर नहीं पहुंच सकी है. बच्ची का पोस्टमार्टम कराया गया लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है. उसका विसरा प्रिजर्व किया गया है, जिसे परीक्षण के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा जाएगा.

दरअसल, जहानाबाद क्षेत्र के ग्राम बरातभोज में एक ही परिवार के तीन बच्चों की मौत होने से गांव में दहशत है. गांव के रहने वाले वीरपाल की चार साल की बेटी लक्ष्मी को बुखार आ रहा था. शनिवार को उसकी तबियत अचानक बिगड़ गई. जब तक परिजन उसको कहीं ले जाते मौत हो गई. इससे पहले मृतका के छोटे भाई तीन साल के नरेश की भी एक दिन पहले बुखार आने से मौत हो गई थी. बच्चे को परिजन अस्पताल भी ले गए थे. यही नहीं दो दिन पहले मृतका के चचेरे भाई के गोविंद की भी बुखार से मौत हो चुकी है. शनिवार को लक्ष्मी की मौत से गांव में दहशत फैल गई. सूचना पर अमरिया के एमओआईसी डा. लोकेश गंगवार ने टीम के साथ गांव जाकर जांच पड़ताल की. परिजनों ने बताया कि तीनों को बुखार आया था. बच्ची के शव को कब्जे में लेने के बाद पुलिस को सूचना दी गई है. बच्ची का पोस्टमार्टम कराया गया लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है जिस कारण उसका विसरा प्रिजर्व किया गया है जिसे परीक्षण के लिए विधि विज्ञान प्रयोगशाला भेजा जाएगा इससे स्वास्थ्य विभाग की मुश्किलें और बढ़ गई हैं.

सीएमओ डॉ सीमा अग्रवाल ने दी ये जानकारी 

सीएमओ डॉ सीमा अग्रवाल ने बताया कि पीलीभीत 3 बच्चों की मौत के बाद गांव में स्वास्थ्य कैंप लगाया गया लगातार लोगों के ब्लड सैंपल लिए जा रहे हैं और सभी तरीके की जांच की जा रही है और मौत की वजह पता करने के लिए तीसरे बच्चे का शव का पीएम भी कराया गया लेकिन पीएम से मौत की वजह नहीं पता लगी है, विसरा सुरक्षित रखा गया है.

ये भी पढ़ें :-

Rampur News: रामपुर पुलिस ने 24 घंटे में खोज निकाली कांग्रेस नेता की घोड़ी, जानें- क्या है पूरा मामला

Ramayana Circuit Train: अयोध्या पहुंची रामायण सर्किट ट्रेन, एक लाख से ज्यादा है टिकट का किराया, जानें क्या है इसकी खासियत?

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button