States

Delhi News: ग्रीन पार्क में मल्टी-लेवल कार पार्किंग का फ्लोर गिरने की घटना में केस दर्ज

Delhi News: दिल्ली पुलिस ने ग्रीन पार्क इलाके में स्वचालित बहुस्तरीय पार्किंग स्थल का एक हिस्सा ढहने की घटना के सिलसिले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. पुलिस अधिकारियों ने बुधवार को यह जानकारी दी. दक्षिणी दिल्ली नगर निगम (एसडीएमसी) ने पिछले साल नवंबर में ही इसका उद्घाटन किया था. मंगलवार शाम को हुए इस हादसे के बाद एसडीएमसी के महापौर ने भी इसकी जांच के आदेश दिए हैं.

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने इसकी जानकारी देते हुए कहा, ‘‘इस घटना के सिलसिले में मंगलवार को हमने अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 336 (दूसरों के जीवन या व्यक्तिगत सुरक्षा को खतरे में डालने वाला कार्य) और धारा 427 के तहत मामला दर्ज किया. पुलिस अधिकारी ने कहा कि यह पता लगाने के लिए गहन जांच की जा रही है कि क्या संबंधित अधिकारियों द्वारा कोई चूक हुई थी या पार्किंग के चालू होने के समय रख-रखाव एवं मरम्मत कार्य की कमी के कारण यह घटना हुई अथवा कोई अन्य कारण था. पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘ इस घटना के मद्देनजर एक गहन तकनीकी विश्लेषण किया जा रहा है जिसके आधार पर ही आगे की कार्रवाई की जाएगी.’’ अधिकारियों ने दावा किया है कि इस घटना में किसी के हताहत होने या कारों के क्षतिग्रस्त होने की कोई सूचना नहीं है, जबकि आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया है कि हादसे में कई कारें क्षतिग्रस्त हो गईं.

एसडीएमसी के महापौर ने दी ये जानकारी 

एसडीएमसी के महापौर मुकेश सूर्यन ने कहा, ‘‘ऑटोमेटेड स्टैक पार्किंग में प्लेटफॉर्म पर कारें खड़ी की जाती हैं. किसी तकनीकी खराबी के कारण, पार्किंग सुविधा की आठवीं मंजिल पर टॉवर नंबर 3 का एक प्लेटफॉर्म या फर्श प्लेट गिर गया. यह कोई बड़ी घटना नहीं थी. न तो किसी को चोट लगी और न ही कोई हताहत हुआ. कोई भी कार क्षतिग्रस्त नहीं हुई है.’’ महापौर ने कहा कि इस मामले में दोषी पाए गए व्यक्तियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. गौरतलब है कि स्वचालित स्टैक पार्किंग सुविधा का उद्घाटन पिछले साल नवंबर में उपराज्यपाल अनिल बैजल और केंद्रीय मंत्री आर के सिंह के साथ एसडीएमसी के वरिष्ठ अधिकारियों ने किया था. ग्रीन पार्क मेट्रो स्टेशन के पास 18 करोड़ रुपये की लागत से बनी इस 17 मंजिला मल्टीलेवल ऑटोमेटिक पार्किंग में 32 एसयूवी सहित कुल 136 कारें खड़ी की जा सकती हैं.

ये भी पढ़ें

Yamuna Pollution: यमुना के प्रदूषण मामले में NGT ने NDMC को क्या कहा, जानिए

Delhi Firecrackers Ban: दिल्ली में अब तक 13000 किलो पटाखे किए गए जब्त, 33 लोग गिरफ्तार

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button