States

सपा से गठबंधन को लेकर शिवपाल यादव बोले- वो बड़े लोग हैं, हमसे बात नहीं करना चाहते    

Shivpal Yadav Ghaziabad Visit: अगले साल यूपी में विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election) होने हैं. चुनाव को लेकर गाजियाबाद (Ghaziabad) में सभी राजनीतिक पार्टियों के नेता जनता को अपनी ओर लुभाने में लगे हैं. अगर बात की जाए भारतीय जनता पार्टी (BJP), आम आदमी पार्टी (AAP), समाजवादी पार्टी (SP) या फिर प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (Pragatisheel Samajwadi Party) की तो सभी पार्टियां अपनी अपने वोट बैंक को मजबूत करने के लिए जनता को लुभाने का काम कर रही हैं. इसी कड़ी में बात करें तो सपा से अलग हुए वरिष्ठ नेता शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) ने अपनी पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी से चुनाव लड़ने का एलान किया है, जिसके बाद से उनका गाजियाबाद में ये दूसरा दौरा रहा है. 

ओवैसी से मुलाकात पर कही ये बात
प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया की संपूर्ण उत्तर प्रदेश सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा आज गाजियाबाद पहुंची. जहां पर शिवपाल यादव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए किसानों के साथ अत्याचार, बेरोजगारी, महंगाई, नौकरी के नाम पर झांसा, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतें और लखीमपुर खीरी कांड को लेकर योगी सरकार को घेरा. शिवपाल ने समाजवादी पार्टी से गठबंधन को लेकर कहा कि 25 प्रतिशत समाजवादी पार्टी को खड़ी करने की हमारी मेहनत है. अगर अखिलेश चाहें तो 25 प्रतिशत सीटें दे सकते हैं, ऐसे में घर वापसी की जा सकती है. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी से गठबंधन नहीं हुआ तो राष्ट्रीय लेवल की किसी पार्टी से गठबंधन करके चुनाव लड़ेंगे. ओवैसी से मुलाकात के बारे में उन्होंने कहा कि ये सिर्फ औपचारिकता मीटिंग थी. 

गठबंधन को लेकर असमंजस 
शिवपाल यादव का अखिलेश यादव के बारे में इस तरह से कहना कहीं ना कहीं घर वापसी का संकेत तो है. लेकिन, अखिलेश यादव शायद शिवपाल की घर वापसी नहीं चाहते हैं. अखिलेश पश्चिम में राष्ट्रीय लोक दल और पूर्व में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के साथ चुनाव में उतरने की तैयारी कर चुके हैं. लेकिन, शिवपाल के बयान से तो लगता है कि वो मायावती चंद्रशेखर आजाद, प्रियंका गांधी के साथ भी मैदान में उतर सकते हैं. लेकिन देखने वाली बात ये होगी कि क्या इनमें से कोई पार्टी प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के साथ अपनी प्रगति की राह पर चलना चाहेगी या नहीं.

योगी सरकार पर बरसे शिवपाल 
शिवपाल यादव ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि जब हमारी सरकार थी तो रोजगार के अवसर युवाओं के लिए बेहतर थे. लेकिन, आज एक तो बेरोजगारी है ऊपर से लगातार महंगाई का डंडा आम जनता को झेलना पड़ रहा है. इतना ही नहीं रसोई गैस से लेकर पेट्रोल-डीजल और घर की सब्जियां तक लगातार महंगी होती जा रही हैं, जिसके चलते आम जनता का योगी सरकार से विश्वास उठ गया है. अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि वो बड़े लोग हैं, अब हमसे बात नहीं करना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें: 

UP Politics: केशव प्रसाद मौर्य का बड़ा बयान, बोले- कमल के फूल पर चुनाव लड़ेगी पार्टी, अमित शाह ने कही थी ये बात 

CM Yogi in Ayodhya: काबुल नदी के पानी से सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया ‘जल अभिषेक’, की रामलला की पूजा-अर्चना 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button