States

हिस्सेदारी मोर्चा के सात दल बीजेपी के साथ आए, स्वतंत्र देव सिंह ने ओपी राजभर पर साधा निशाना

UP Election 2022: आगामी चुनाव को लेकर हर कोई समीकरण साधने में लगा है. बुधवार को हिस्सेदारी मोर्चा के सात घटक दलों ने आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को अपना सहयोग व समर्थन देने की घोषणा की. भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह की मौजूदगी में ये ऐलान हुआ. इस दौरान मोर्चे के घटक दलों में भारतीय मानव समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष केवट रामधनी बिन्द, मुसहर आन्दोलन मंच (गरीब पार्टी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्द्रमा वनवासी, शोषित समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बाबू लाल राजभर, मानवहित पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्णगोपाल सिंह कश्यप, भारतीय सुहेलदेव जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भीम राजभर, पृथ्वीराज जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चन्दन सिंह चौहान व भारतीय समता समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेन्द्र प्रजापति मौजूद रहे.

बीजेपी की सरकार में कानून का राज

मोर्चे में राजभर समाज के दो नेता शामिल हैं. स्वतंत्र देव सिंह ने कहा कि, सभी गरीबों का पक्का मकान बनाना है. 2024 तक जो गरीब बचे हैं उन सभी गरीबों को पक्का मकान देना है, शौचालय देना है, आयुष्मान का कार्ड देना है, बिजली का कनेक्शन देना है, स्वास्थ्य और शिक्षा भी फ्री करना है. जब कानून का राज होता है तो गरीबों का सम्मान होता है, भ्रष्टाचार नहीं होता, गुंडागर्दी नहीं होती, अपराध नहीं होता. आम जनता यह जानती है कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार में कानून का राज रहेगा और गरीबों का विकास होगा.

समाजवादी पार्टी पर निशाना 

उन्होंने कहा कि सपा शासनकाल में गुंडागर्दी होती थी. स्वतंत्र देव ने राजभर और अखिलेश की रैली पर कहा कि, जनता समझदार है, सब दिखाई देता. पहले जो राम को गाली देते थे, कहते थे मंदिर की जगह हॉस्पिटल बना दो आज वो 2-3 घंटा वहां माथा टेकते. व्यक्ति विकास के नाम पर वोट देगा, जाति के नाम पर नहीं. वो कोई सम्मेलन करें दाल नहीं गलने वाली. स्वतंत्र देव ने कहा कि, ओपी राजभर स्वतंत्र हैं, उनको लगा यहां लाभ नहीं मिलेगा. सपा और राजभर का दूर दूर तक रिश्ता नहीं. हमेशा सपा ने राजभर का शोषण किया. ओपी राजभर भले मिल जाएं लेकिन सपा को राजभर का एक वोट नहीं मिलेगा. प्रियंका की सक्रियता और गोरखपुर रैली पर उन्होंने कहा कि नेहरू और सोनिया के रहते क्या कभी देवरहा बाबा, वशिष्ठ जी के नाम से हॉस्पिटल बनाया क्या. राष्ट्र को कांग्रेस ने नहीं इन महर्षियों ने बनाय है, देश के लिए संघर्ष किया.

ये भी पढ़ें.

IAS Transfer in UP: यूपी में अफसरों का फेरबदल जारी, देर रात 10 IAS अधिकारियों का हुआ तबादला

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button