States

Kanpur News: मुलायम सिंह के करीबी रहे हरमोहन सिंह यादव का परिवार बदल सकता है रास्ता


<p style="text-align: justify;"><strong>UP Politics News:</strong> कानपुर का मेहरबान सिंह का पुरवा आज भाजपा के रंग में रंगा नजर आया. सामाजवादी पार्टी का गढ़ माने जाने वाला मेहरबान सिंह का पुरवा समाजवादी आंदोलन के प्रणेता रहे चौधरी हरमोहन सिंह का गांव है. देश प्रदेश में साइकिल को सैफई से लखनऊ तक पहुंचने के लिए एक पहिया कानपुर के मेहरबान सिंह के पुरवा से लगता था. वहीं, सरकार बनने के बाद कई मंत्रालयों तक का निर्धारण की पृष्ठिभूमि भी यहीं लिखी जाती है. सपा सरकार में उन्हें सूबे का मिनी मुख्यमंत्री भी कहा जाता था. लेकिन, चौधरी &zwnj;साहब की 100वीं जयंती पर सपा यह किला भगवा रंग में रंग गया है. वहीं, चौधरी साहब की तीसरी पीढ़ी का झुकाव भी भाजपा की तरफ नजर आया.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>शताब्दी समारोह में बदला नजारा&nbsp;</strong></p>
<p style="text-align: justify;">चौधरी साहब के शताब्दी समारोह के तैयार मंच भगवा रंग में रंगा नजर आया. पीले व भगवा रंग के अलावा मनोकामना की पत्तियों से मंच को सजाया गया. वहीं मंच पर प्रदेश के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने शिरकत की. इसके अलावा सांसद देवेंद्र सिंह भोले, महापौर प्रमिला पांडे, जिलाध्यक्ष सुनील बंसल और सपा सांसद चौधरी सुखराम सिंह यादव और उनके बेटे मोहित यादव मौजूद रहे.<br />&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>उपेक्षा से नाराज दिखे सुखराम सिंह</strong></p>
<p style="text-align: justify;">चौधरी साहब की शताब्दी समारोह में अपने संबोधन के दौरान हरमोहन सिंह के बेटे सुखराम सिंह ने कहा कि वह बेटे व मुलायम के बीच असमंजस में फंसे हैं. उन्होंने अखिलेश का नाम लिए बिना नाराजगी जताते हुए कहा कि जब तक मुलायम हैं, तब तक मैं सपा में रहूंगा. पुराना किस्सा याद करते हुए कहा कि, एक तत्कालीन मुख्यमंत्री ने स्टेडियम का नाम पिताजी के नाम पर रखने का आश्वासन दिया था. लेकिन आज तक वह स्टेडियम नहीं बना. उन्होंने कानपुर देहात में बन रहे कालेज का नाम रखने की मांग की. उन्होंने यह भी कहा कि, राजनीति में बहुत बदलाव आ चुका है. जिनमें कूट-कूट कर अहंकार भरा है. उनके बारे में कुछ नहीं कहूंगा. उनका परिवार धार्मिक है पाखंडी नहीं. इसके अलावा वह यह भी बोले कि मोहित&zwnj; के लिए सपा में जगह नहीं बना पाउंगा. वह अब बालिग है और कहीं भी जाने को स्वतंत्र है.<br />&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>डिप्टी सीएम ने भी साधा निशाना&nbsp;</strong></p>
<p style="text-align: justify;">वहीं, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने चौधरी हरमोहन सिंह अमर रहें&zwnj; के उद्घोष के साथ अपना संबोधन शुरु किया. उन्होंने मोहित को पार्टी का वरिष्ठ नेता बताते हुए कहा कि, चौधरी परिवार में हमेशा से बुजुर्गों का सम्मान होता रहा है. लेकिन यादव परिवार में कई लोग ऐसे भी हैं &nbsp;कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो पूर्वजों का सम्मान नहीं करते हैं, जिसके परिणाम सामने आ रहे हैं. वहीं, मुख्यमंत्री योगी कार्यक्रम में वर्चुअल जुड़े और उन्होंने चौधरी साहब के इस आयोजन में जुड़ने के लिए यादव परिवार का आभार जताया.&nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>रास्ता बदल सकता है हरमोहन सिंह का परिवार&nbsp;</strong></p>
<p style="text-align: justify;">पिछली दो पीढ़ियों से चौधरी हरमोहन सिंह यादव का परिवार मुलायम सिंह यादव के कंधे से कंधा मिलाकर सियासी चालें चलता रहा है. लेकिन जानकारों की मानें तो जब से अखिलेश यादव ने समाजवादी पार्टी की कमान संभाली है तब से यह परिवार सपा में अपनी लगातार की जा रही उपेक्षा से दुखी है. पिछले काफी दिनों से यह चर्चा आम हो चली थी कि चौधरी साहब के परिवार के कुछ लोग समाजवादी पार्टी से बागी होकर अपने राजनीतिक भविष्य को किसी दूसरे राजनीतिक दल में तलाश सकते हैं, और आज चौधरी साहब के जन्म शताब्दी वर्ष समारोह के कार्यक्रम के मंच को भगवा मय करते हुए यह संदेश देने की परिवार के द्वारा कोशिश है कि, अगर अखिलेश यादव को समाजवादी पार्टी में इस परिवार की जरूरत नहीं है तो यह परिवार अब अपना रास्ता बदलने को बिल्कुल तैयार है.&nbsp;</p>
<p><iframe title="YouTube video player" src="https://www.youtube.com/embed/vLHhulvlyxc" width="560" height="315" frameborder="0" allowfullscreen="allowfullscreen"></iframe></p>
<p style="text-align: justify;">ये भी पढ़ें.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong><a title="लखनऊ में कोरोना टीकाकरण के आंकड़ों में बड़ा खेल आया सामने, हर कैटेगरी में महिलाओं का 40% हुआ वैक्सीनेशन" href="https://www.abplive.com/states/up-uk/big-game-in-statistics-of-corona-vaccination-in-lucknow-40-of-women-were-vaccinated-in-every-category-ann-1984075" target="">लखनऊ में कोरोना टीकाकरण के आंकड़ों में बड़ा खेल आया सामने, हर कैटेगरी में महिलाओं का 40% हुआ वैक्सीनेशन</a></strong></p>

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button