States

UP Election: चाचा शिवपाल के साथ गठबंधन को लेकर भतीजे अखिलेश का बड़ा बयान, कही ये बात

Akhilesh Yadav on Alliance: सपा (SP) प्रमुख और पूर्व सीएम अखिलेश यादव चाचा शिवपाल (Shivpal Yadav) के साथ गठबंधन को लेकर नरम दिख रहे हैं. दरअसल, अखिलेश यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (प्रसपा) के साथ गठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया है. गौरतलब है कि अखिलेश प्रदेशभर में रथ यात्रा निकाल रहे हैं. कल उनकी रथ यात्रा कानपुर देहात पहुंची थी. इस दौरान उन्होंने पत्रकारों के साथ बातचीत के दौरान चाचा शिवपाल के साथ गठबंधन को लेकर बड़ी बात कही. पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए अखिलेश ने कहा, “चाचा शिवपाल का सम्मान रखा जाएगा और 2022 में वह समाजवादी के साथ दिखाई देंगे.” अखिलेश ने इशारों-इशारों में असदुद्दीन ओवैसी पर हमला भी बोला. उन्होंने कहा कि समाजवादी पार्टी का केवल एक ही मकसद है यूपी से बीजेपी का सफाया करना. 

अखिलेश केंद्र की मोदी और प्रदेश योगी सरकार पर जमकर हमलावर भी हुए. अखिलेश ने कहा कि जिन योजनाओं को लेकर बीजेपी डंका पीट रही है उनकी जमीनी हकीकत कुछ और है. बीजेपी उज्ज्वला योजना के माध्यम से गरीबों तक गैस सिलेंडर पहुंचाने की बात कर रही है. हकीकत में गैस के बढ़े दामों की वजह से गरीब न तो सिलेंडर भरवा पा रहा है और न ही सिलेंडर के उनको दर्शन हो पा रहे हैं. 

अखिलेश ने ये भी कहा कि बीजेपी सरकार ने न सिर्फ किसानों को धोखा दिया है बल्कि युवाओं को भी धोखा दिया है. अखिलेश ने कहा कि ना तो युवाओं को रोजगार मिला है और न ही किसानों को उनकी मेहनत का फल मिला है. सरकार के गलत फैसलों और नीतियों की वजह से दिन पर दिन महंगाई चरम सीमा पर पहुंच रही है और सरकार इसकी रोकथाम करने में पूरी तरह नाकाम साबित हो रही है. देश में पेट्रोल 100 रुपये के पार है और डीजल भी 100 के पास होने की होड़ में है. उद्योग के नाम पर जो बीजेपी ने कारखाने लगाने के बात कही थी, लेकिन सत्ता में काबिज होने के बाद यूपी में छोटे कारखाने सहित बड़े कारखाने गायब हो गए हैं. उद्योग के नाम पर केवल यूपी के साथ छल हुआ है.

बिजली कटौती पर कसा तंज
अखिलेश ने बिजली कटौती को लेकर भी तंज कसा. उन्होंने कहा कि आज बीजेपी यूपी में महंगी बिजली खरीद रही है. लगता है कि यूपी के लोगों ने दिल्ली की सरकार को वोट नहीं दिया है, इसलिए उनको बिजली के महंगे दाम देने पड़ रहे हैं. यही नहीं उनको बिजली कटौती के मुश्किल दौर से गुजारना पड़ रहा है. दिल्ली की सरकार को बनाने ने यूपी की जनता ने अहम योगदान दिया है. इसको देखते हुए दिल्ली की बीजेपी सरकार को यूपी के लोगों को फ्री बिजली देनी चाहिए. बिजली के संकट को बीजेपी ने पैदा किया है. बीजेपी ने बिजली संकट ही नहीं बेरोजगारी सहित कई संकट देश के सामने पैदा किए हैं.

ये भी पढ़ें:

UP Election 2022: बिजली बिल पर सपा और आप के मिले सुर, क्या गठबंधन के हैं संकेत?

UP Election 2022: विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के साथ गठबंधन को लेकर जयंत चौधरी का बड़ा बयान

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button