States

पटना में छात्रों ने धनिया से बनाई मां दुर्गा की मूर्ति, दो महीने में तैयार की भव्य प्रतिमा

पटना: देश भर में दुर्गा पूजा की धूम है. श्रद्धालु पूरी आस्था से मां की आराधना करने में लीन है. सप्तमी पूजा से पंडालों में मां का पट खुल गया है. लोग दर्शन को पहुंच रहे हैं. बिहार की राजधानी पटना में भी तरह-तरह के पंडाल और मूर्ति तैयार किए गए हैं. इसी कड़ी में पटना के बुद्धा कॉलोनी में काठपुल मंदिरी के पास स्थित दुर्गा पूजा पंडाल में धनिया इस्तेमाल कर बनाई गई प्रतिमा लोगों का ध्यान आकर्षित कर रही है. धनिये के दाने से बनाई गई भव्य प्रतिमा अद्भुत शोभा पा रही है. 

आर्ट्स कॉलेज के छात्रों ने किया तैयार

मूर्ति देखने के लिए लोगों की भीड़ उमड़ रही है. सभी मूर्ति की शोभा देख कलाकारों की कलाकारी के कायल हो रहे हैं. इस संबंध में जब दुर्गा पूजा समिति के संस्थापक अजय कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया, ” मां दुर्गा की भव्य प्रतिमा बनाने में दो महीने लगे हैं. आर्ट्स कॉलेज के छात्रों ने इसे बनाया है. “

 

कोरोना टेस्ट की व्यवस्था

बता दें कि कोरोना काल होने की वजह से प्रशासन ने बड़े पैमाने पर दुर्गा पूजा का आयोजन करने पर पांबन्दी लगाई गई है. भीड़-भाड़ को नियंत्रित करने के लिए अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है. वहीं, बड़े-बड़े पूजा पंडालों के बाहर कोरोना टेस्ट के साथ-साथ टीकाकरण की भी व्यावस्था स्वास्थ्य विभाग की ओर से की गई है. ताकि माता के दर्शन के साथ लोग बीमारी से भी सुरक्षित हो सकें. 

गौरतलब है कि शारदीय नवरात्र के महाअष्टमी के अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) भी माता के दरबार में हाजिरी लगाने पहुंचे थे. मुख्यमंत्री राजधानी पटना से सटे पटनासिटी स्थित बड़ी और छोटी पटनदेवी मंदिर पहुंचे और मां दुर्गा की पूजा की. पूजा पाठ के दौरान सीएम नीतीश के साथ बिहार के शिक्षा मंत्री और उनके करीबी नेता विजय चौधरी (Vijay Chaudhary) भी मौजूद थे. पूजा पाठ बाद उन्होंने एक कार्यक्रम में भी हिस्सा लिया, जहां उन्हें सम्मानित किया गया.

यह भी पढ़ें –

Durga Ashtami 2021: अष्टमी पर दर्शन करने के लिए निकले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, माता के दरबार में लगाई हाजिरी

Video Viral: रोहतास का ‘दबंग’ दारोगा, आधी रात घर में घुसा, महिला बोली- घर में कोई नहीं है, फिर भी नहीं माना



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button