States

छठ पूजा कार्यक्रम पर पाबंदी लगाए जाने पर नाराज हुए मनोज तिवारी, कहा इससे हिंदुओं की भावनाएं हुई

Manoj Tiwari Angry Over Chatth Pooja Restrictions: भारतीय जनता पार्टी (BJP) के सांसद मनोज तिवारी ने छठ पूजा कार्यक्रमों पर रोक लगाए जाने पर नाराजगी जाहिर की है. उन्होंने कहा है कि इससे हिंदुओं की भावनाएं आहत हुई हैं. मनोज तिवारी ने बुधवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर मुसलमानों का तुष्टीकरण करने और छठ पूजा पर प्रतिबंध लगाकर हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया.

केजरीवाल को लिखे एक पत्र में मनोज तिवारी ने छठ मनाने को लेकर केंद्र से दिशा-निर्देश लेने के आम आदमी पार्टी सरकार के कदम पर भी सवाल उठाया और कहा कि अगर सरकार इस मामले में गंभीरता से विचाह कर रही थी तो त्योहार को प्रतिबंधित करने से पहले ऐसा करना चाहिए था. अब इस कदम का कोई फायदा नहीं.

क्या कहा मनोज तिवारी ने –

मनोज तिवारी ने इस संबंध में बात करते हुए अरविंद केजरीवाल को दोषी ठहराया और कहा, ‘मुझे यह कहते हुए खेद है कि आप लगातार हिंदू समुदाय की भावनाओं को आहत करने के लिए काम कर रहे हैं और आप दिल्ली में मुस्लिम तुष्टीकरण के दोषी हैं. छठ पर प्रतिबंध के माध्यम से आपने हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया है.’

उन्होंने आगे कहा कि छठ केवल पूर्वांचलियों (पूर्वी उत्तर प्रदेश और बिहार के भोजपुरी भाषियों) का त्योहार नहीं है, बल्कि भारत की सामाजिक, सांस्कृतिक और आध्यात्मिक परंपरा का एक अटूट हिस्सा भी है.

मनोज तिवारी का कहना था कि मुख्यमंत्री होने के नाते इस तरह का हिंदू विरोधी रवैया अपनाना अरविंद केजरीवाल को शोभा नहीं देता. उनकी वजह से (मुख्यमंत्री) पद की गरिमा धूमिल हो रही है.

कोविड के कारण लगी रोक –

दिल्ली सरकार ने कोविड-19 के मद्देनजर सार्वजनिक स्थानों पर छठ मनाने पर रोक लगा दी है. दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में छठ समारोह के संबंध में केन्द्र के दिशा-निर्देशों के आधार पर जल्द ही फैसला लिया जाएगा. 

यह भी पढ़ें:

उत्तर प्रदेश को रोशन करने वाले सोनभद्र में छाया अंधेरा, अब तक नहीं पहुंची बिजली, जानें वजह 

UP Election 2022: आज जालौन पहुंचेगी अखिलेश यादव की विजयरथ यात्रा, सपा प्रमुख का दावा – बीजेपी सरकार जाने वाली है 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button