States

मैनपुरी: जलभराव से अन्नदाताओं की हजारों बीघा फसल को नुकसान

मैनपुरी: उत्तरप्रदेश के जनपद मैनपुरी के तहसील करहल क्षेत्र के गांव में अन्नदाताओं की हजारों बीघा धान की फसल जलभराव होने से बर्बाद होने के कगार पर है. जिससे किसानों ने शासन प्रशासन से खेतों में खड़ी फसल को बचाने के लिए पानी निकासी कराने की मांग की है. जहां फसल बर्बाद होने से किसानों को लाखों रुपये का नुकसान होने के अनुमान के साथ साथ गेंहू की फसल बोन का भी संकट खड़ा हुआ दिखाई दे रहा है. अन्नदाताओं ने शासन प्रशासन से दबंगों से नाला खुलवा कर कार्रवाई की मांग की है.

खेतो में जलभराव का मामला तहसील करहल क्षेत्र के ग्राम पंचायत मोहब्बतपुर गांव से जुड़ा है. जहां के किसानों ने आरोप लगाते हुए बताया कि उनके गांव नगलाकदम, नगलाबाबा, बहादुरपुर ,पृथ्वीपुर, मुहब्बतपुर,गांव की लगभग दो हजार बीघा में खड़ी धान की फसल में जलभराव की स्थित है. किसान धान की फसल नहीं काट पा रहे. जलभराव के कारण धान की फसल नष्ट होने के कगार पर पहुंचती जा रही जिसका कारण किसानों ने गांव के कुछ दबंगों पर लगाया है.

दबंगों पर जल निकासी के लिए बनाए नाले को बंद करने का आरोप

किसानों का आरोप है कि जल निकासी के लिए एक नाला बनाया गया था जो अब गांव के कुछ दबंगों ने बंद कर दिया है जिस कारण से उनकी हजारों बीघा फसल में जल भराव है. किसानों का आरोप है कि कई बार इस नाले को खुलवाने के लिए प्रशासन से गुहार लगाई लेकिन आज तक उनकी कोई सुनवाई नहीं हुई. जिससे कई-कई फुट पानी खेतों में भरने के कारण अधिकांश फसल बर्बाद हो रही है. अफसरों की लापरवाही का खामियाजा अन्नदाता भुगत रहा है, किसानों की कोई सुनवाई नहीं हो रही है. यहीं कारण है कि महीनों से खेतों में पानी भरा है.

जल निकासी का प्रबंध सही न होने से समस्या है. जिसके चलते अन्नदाताओं के साथ किसान यूनियन किसान के पदाधिकारीयों ने किसानों की समस्या को देखते हुए एसडीम करहल अनिल कुमार कटियार को ज्ञापन सौप समस्या के जल्द निराकरण की मांग की. मांग ना पूरी होने पर किसानों द्वारा तहसील का घेराव कर आंदोलन की चेतावनी दी.

क्या कहते है एसडीम करहल

उपजिलाधिकारी करहल अनिल कुमार कटियार ने बताया कि, प्रकरण संज्ञान में आया था हमनें लेखपाल को भेजा और कुछ साफ सफाई कराई गई है. उन्होंने आगे कहा कि, मैंने तहसीलदार को बोला है कि वो वहां कुछ प्रोगाम लगाएंगे जो उचित निस्तारण होगा वो कराया जाएगा.

यह भी पढ़ें.

Lakhimpur Kheri News: राकेश टिकैत बोले- पुलिस की हिम्मत नहीं कि मंत्री के बेटे से पूछताछ करे, गुलदस्तों वाला रिमांड है

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button