States

Bihar News: 47 किलो चांदी के जेवर और ईंट के साथ दो तस्कर गिरफ्तार, रेल पुलिस ने की कार्रवाई

गया: बिहार के गया जिले में रेल पुलिस ने दो चांदी तस्करों को गिरफ्तार किया. गया जंक्शन पर आरपीएफ की टीम ने तस्करी के लिए लाए गए 47 किलो चांदी के आभूषण व ईंट बरामद किए हैं. इसके साथ ही दो तस्करों को भी गिरफ्तार किया गया है. दरअसल, त्योहार को लेकर गया जंक्शन पर आरपीएफ, सीआईडी के अधिकारी, जवान व टास्क टीम के सदस्य आपराधिक तत्वों पर निगरानी रखने के लिए लगातार गश्ती कर रहे हैं. 

इस तरह हुआ मामले का खुलासा

इसी क्रम में सोमवार की रात करीब दो बजे 02815 नंदन कानन एक्सप्रेस की कोच संख्या एस-4 से 2 लोगों को कई छोटे-छोटे बैग के साथ उतरते हुए देखा गया. दोनों की गतिविधियां संदिग्ध दिखने पर उनकी तलाशी ली गई तो उनके पास से चांदी के आभूषण और ईंट सहित कुल 47 किलो चांदी को बरामद किया गया. इस दौरान जीएसटी इनवॉइस सहित अन्य दस्तावेज की मांग करने पर बिल नहीं दिखाया गया. न ही तस्कर कोई और वैध प्रमाण दे सके. ऐसे में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. 

बंगाल के रहने वाले हैं तस्कर

पूछताछ में गिरफ्तार दोनों तस्करों ने अपना नाम विश्वरंजन मन्ना और शुभाशीष मेती बताया है, जो पश्चिम बंगाल के मेदिनीपुर के रहने वाले हैं. आरपीएफ इंस्पेक्टर अजय प्रकाश ने बताया कि पूछताछ में यह खुलासा की दोनों गिरफ्तार व्यक्ति चांदी के आभूषण की डिलीवरी सर्राफा चौक स्थित ज्वेलर्स की दुकानों में देने वाले थे. आगे की कार्रवाई के लिए दोनों तस्करों को सहायक आयुक्त कस्टम और सर्विस टैक्स गया प्रमंडल को सुपुर्द किया जा रहा है. जब्त चांदी के आभूषणों का अनुमानित मूल्य 28 लाख 89 हजार 200 रुपये आंका गया है. 

उन्होंने बताया कि चांदी के आभूषण और ईंट की बरामदगी के मामले में कस्टम और सर्विस टैक्स के अधिकारी पूछताछ करने में लगे हैं. ये पता लगाया जा रहा है कि आखिर 47 किलो चांदी की खरीदारी कहां से की गई है. सर्राफा के किस ज्वेलर्स दुकान में इसकी आपूर्ति की जानी थी तथा आभूषण का अवैध व्यापार कब से जारी है. पूछताछ व छानबीन के बाद कई खुलासे होने की संभावना है.

यह भी पढ़ें –

Exclusive: इस्पात मंत्रालय की हिंदी सलाहकार समिति में कैसे आया चिराग पासवान का नाम? RCP सिंह ने खुद बताया

Bihar By-Election: ‘मुसलमानों का वोट मिले इसलिए ओसामा की शादी में पहुंचे तेजस्वी यादव’, HAM ने लगाया आरोप

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button