States

UP Minister: गन्ना मंत्री सुरेश राणा का बयान, हम किसानों से बातचीत के लिए हमेशा तैयार हैं

Suresh Rana in Muzaffarnagar: उत्तर प्रदेश सरकार में गन्ना मंत्री सुरेश राणा आज मुज़फ्फरनगर में एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे. जहां उन्होंने मीडिया से कृषि कानून पर चर्चा करते हुए कहा कि, भारतीय जनता पार्टी के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और मुख्य मंत्री योगी जी के कार्यों से प्रभावित होकर दूसरी पार्टियों के लोग भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो रहे हैं. उन सभी का भारतीय जनता पार्टी में स्वागत है. हमने कोरोना काल की विकट परिस्थितियों में देश की एक भी शुगर मिल को बंद नहीं होने दिया. लखीमपुर कांड की न्यायिक जांच हो रही है. उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था अन्य राज्यों के लिए भी रोल मोडल बनी है.

लखीमपुर कांड पर सीएम ने तुरंत लिया फैसला 

लगातार कड़ी कार्रवाई करना किसी को भी कानून को हाथ में नहीं लेना और लखीमपुर कांड पर भी तुरंत फैसला करते हुए मुख्यमंत्री योगी जी ने न्यायिक आयोग का गठन किया है. साथ ही उसकी जांच शुरू हो गयी है. सभी तथ्य सामने आ रहे हैं. सारे तथ्यों के आधार पर हम कानूनी कार्रवाई करेंगे. प्रधानमंत्री  मोदी जी ने सात साल में किसानों के हित में बड़े फैसले किये हैं. सुरेश राणा ने कहा कि, मैं MSP की बात करूं तो गेहूं की MSP 13 से लेकर दो हजार तक पहुंची खाद के बंद कारखाने चलाने काम मोदी जी ने किया. किसान मसीहा चौधरी चरण सिंह जी कहा करते थे खेत और खलियान से देश की तरक्की का रास्ता निकलता है. 

किसानों से बातचीत को हमेशा तैयार 

गांव के स्ट्रक्चर को मजबूत करने काम भी मोदी जी ने किया है. गांव की बिजली अलग, खेत की बिजली अलग, ये काम भी मोदी और योगी जी ने किया है. इस लिए मैं जनता हूं कि, मोदी जी और योगी ने किसानों के हित के लिए बड़े काम किये हैं, फिर भी कृषि विधेयक भी उसी का एक हिस्सा है. लेकिन अगर फिर भी किसी किसान भाई को लगता है कि, उसके पास कोई ऐसा सुझाव है जो और भी बहुत महत्वपूर्ण हो सकता है, तो भारतीय जनता पार्टी ने हमेशा अच्छे सुधार और सुझाव का स्वागत किया है. हमारे कृषि मंत्री जी ने 12 दौर की वार्ता की मोदी जी ने भी कहा कि, मैं एक कॉल की दूरी पर हूं, किसी भी किसान नेता या किसी भी किसान भाई के पास कोई ऐसा सुझाव है जो कृषि कानून में संसोधन करना है तो सदा ही भाजपा ने दरवाजे खुले रखे है. मेरा बस इतना कहना है कि, मोदी जी का उद्देश्य केवल किसानों का भला करना है. उद्देश्य है कि, किसानों की आमदनी को बढ़ाना इसलिए किसी को लगता है कि, इस कृषि कानून में कुछ और संसोधन की आवश्यकता है तो किसान भी सुझाव दें उनके सभी सुझाव पर विचार होगा, और भारतीय जनता पार्टी हमेशा किसानों के सुझाव के लिए तैयार है. 

ये भी पढ़ें.

Alert in Noida: दिल्ली में आतंकी पकड़े जाने के बाद नोएडा में हाई अलर्ट, बॉर्डर पर वाहनों की सघन तलाशी

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button