States

चार लोगों ने 55 साल की महिला से किया गैंगरेप, हालत गंभीर, आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

Crime News Greater Noida: ग्रेटर नोएडा के कोतवाली जेवर के एक गांव में पशुओं के लिए चारा लेने गई एक 55 साल की दलित महिला को 4 लोगों ने बंधक बनाया और खेतों में ले जाकर उसके साथ गैंगरेप किया. महिला को बेहोशी की हालत में छोड़कर मौके से फरार हो गए. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को गंभीर अवस्था में नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया है. पुलिस ने पीड़ित महिला के पति की शिकायत पर चार लोगों के खिलाफ गैंगरेप, एससी-एसटी एक्ट की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है.

नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती गैंगरेप की शिकार पीड़ित महिला से मिलने पहुंची डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने कहा कि एक आरोपी की पहचान हो गई है अन्य की तलाश की जा रही है, शीघ्र ही इनकी गिरफ्तारी की जाएगी. महिला के परिजनों का कहना है कि दलित महिला जेवर एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहित की गई जमीन से पशुओं के लिए चारा लेने गई थी. इसी बीच चार लोग वहां पहुंच गए और महिला को अकेला देख चारों ने हथियारों के बल पर बंधक बना लिया और गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया. विरोध करने पर महिला के साथ बुरी तरह मारपीट की गई और आरोपियों ने जाति सूचक शब्द का इस्तेमाल करते हुए उसे धमकाया, कि अगर उसने इस बात की जिक्र किसी से किया तो उसे जान से मार देंगे. 

महिला को गम्भीर चोटें आई और वह बेहोश हो गई

आरोपियों ने महिला के साथ वीभत्स तरीके से गैंगरेप किया जिससे महिला को गम्भीर चोटें आई और वह बेहोश हो गई. उसे बेहोश देख और आरोपी घबरा गए और मौके से फरार हो गए. होश आने पर महिला किसी तरह अपने घर पहुंची और घटना की जानकारी परिवार वालों को दी.

महिला के साथ गैंगरेप की खबर फैलते ही पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया. डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने पीड़ित महिला से मुलाकात की और महिला की गंभीर हालत को देखते हुए नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया. वृंदा शुक्ला का कहना है कि पीड़ित परिवार की शिकायत पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. मुख्य आरोपी पीड़ित के गांव का ही है वह अपने जानवर खेतों में चराता था और गांजा पीने का आदी है. उसकी पहचान हो गई है उसके साथ अन्य 3 लोग जो थे उनकी पहचान की जा रही है और उनकी गिरफ्तारी के लिए कई टीमें गठित की गई हैं. महिला का मेडिकल कराया गया है और उसकी स्थिति गंभीर लेकिन स्थिर बनी हुई है. आरोपियों को शीघ्र ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

यह भी पढ़ें-

Uttarakhand Election: उत्तराखंड में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस में शामिल हुए यशपाल आर्य और संजीव आर्य

UP Police News: यूपी में पुलिसकर्मियों को नहीं मिलेगी 18 अक्टूबर तक छुट्टी, जानिए क्या है वजह

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button