States

इमरान मसूद बोले- योगी सरकार को सत्ता से हटाने के लिए कांग्रेस और सपा को करना होगा गठबंधन

पश्चिम उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में से एक इमरान मसूद का पार्टी छोड़ने की अटकलों पर खुद इमरान मसूद ने एबीपी गंगा से बातचीत के दौरान विराम लगाते हुए कहा कि वह पार्टी कभी नहीं छोड़ेंगे लेकिन वो सपा और कांग्रेस के गठबंधन को लेकर पार्टी को पहले भी अवगत करा चुके हैं और अभी भी अवगत करा रहे हैं ताकि साल 2022 में सपा और कांग्रेस के गठबंधन की सरकार प्रदेश बने. 

कांग्रेस और समाजवादी पार्टी मिलकर बनाएगी यूपी में सरकार

एबीपी गंगा से खास बातचीत के दौरान कांग्रेस नेता इमरान मसूद ने कहा कि वो साल 2017 में कांग्रेस और सपा के हुए गठबंधन का विरोध कर रहे थे. क्योंकि उस वक्त गठबंधन किया गया जब वक्त नहीं था कि दोनों पार्टी के कार्यकर्ता एक-दूसरे को समझ सके अपना तालमेल बैठा सके लेकिन 2022 के चुनाव में अभी वक्त है ऐसे में अगर अभी दोनों पार्टियों का गठबंधन होता है तो दोनों पार्टियों के कार्यकर्ता एक-दूसरे को समझ सकेंगे और 2022 में दोनों पार्टियां मिलकर सरकार बनाने की स्थिति में होंगी. 

 

साल 2022 के चुनाव में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी मजबूती के साथ लड़ेंगी चुनाव

 

हालांकि एबीपी गंगा संवाददाता बलराम पांडे ने कांग्रेस नेता इमरान मसूद से पूछा कि साल 2017 में सपा और कांग्रेस का गठबंधन हुआ था और चुनाव में क्या हश्र हुआ वह सभी ने देखा ऐसे में कौन सा ऐसा ग्राउंड है जिसके तहत अगर आज गठबंधन होता है तो सपा और कांग्रेस प्रदेश में अपनी सरकार बनाएंगे. इस सवाल पर इमरान मसूद ने कहा दोनों पार्टियों के पास वक्त है उनके कार्यकर्ताओं के पास वक्त है कि वह एक-दूसरे को समझ सके अपना तालमेल बैठा सके जिससे साल 2022 के चुनाव में दोनों पार्टियों के प्रत्याशी मजबूती से चुनाव लड़ेंगे. 

 

योगी को सत्ता से हटाने के लिए सपा-कांग्रेस को करना होगा गठबंधन- इमरान मसूद

 

इमरान मसूद ने कहा कि वह चाहते हैं कि प्रदेश में योगी सरकार को 2022 में हटाया जाय लेकिन उसके लिए जरूरी है कि सपा और कांग्रेस का गठबंधन हो, क्योंकि कांग्रेस और सपा का गठबंधन ही बीजेपी सरकार को उखाड़ने में कामयाब हो सकता है इसलिए सभी विपक्षी दलों को एकजुट होना होगा. 

 

प्रियंका गांधी के नेतृत्व में चुनाव लडेंगी कांग्रेस पार्टी

 

इमरान मसूद ने कहा हम कांग्रेस में हैं और कांग्रेस में ही रहेंगे लेकिन कांग्रेस प्रदेश में प्रियंका गांधी के नेतृत्व में 2022 का चुनाव लड़कर मजबूत स्थिति में आए इसके लिए समाजवादी पार्टी से गठबंधन बेहद जरूरी है और शायद यही वजह है किस पार्टी के आलाकमान उनकी इस बात को ज्यादा गंभीरता से नहीं ले रहे हैं इसीलिए शायद वह कुछ वक्त से चुप है.

 

अखिलेश यादव, कांग्रेस के साथ करें गठबंधन

 

इमरान मसूद ने अखिलेश यादव से भी अपील किया कि वह भी गठबंधन को लेकर पहल करें ताकि 2022 में योगी सरकार को हटाने में सफलता मिल सके. लेकिन जब एबीपी गंगा ने इमरान मसूद से कहा 2022 के गठबंधन को लेकर वह अखिलेश यादव से मुलाकात करेंगे तो उन्होंने कहा यह पार्टी को तय करना है कि गठबंधन होना चाहिए या नहीं वह तो सिर्फ पार्टी के सक्रिय कार्यकर्ता होने के नाते सिर्फ अपनी राय दे सकते हैं.

 

लेकिन जब उनसे यह पूछा गया कि आज अखिलेश यादव आपके शहर सहारनपुर में ही आ रहे हैं तो क्या ऐसे में आप उनसे मुलाकात करने जाएंगे या मंच साझा करेंगे तो उन्होंने कहा यह समाजवादी पार्टी का कार्यक्रम है इसमें वह नहीं जाएंगे वह अपने पार्टी के कार्यक्रम में जाएंगे आज उन्हें वाराणसी जाना था लेकिन उनकी आंख नहीं खुली इसलिए वह वाराणसी नहीं जा पाए. लेकिन वह कांग्रेस के सच्चे सिपाही हैं और सच्चे सिपाही की तरह वह कांग्रेस के लिए 2022 में भी काम करेंगे.

 

 

यह भी पढ़ें

 

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button