States

Bihar News: खेत में काम कर रहे पति-पत्नी की करंट लगने से मौत, परिजनों ने जमकर किया हंगामा

पटना: बिहार की राजधानी पटना से सटे बिहटा में गुरुवार को खेत में काम कर रहे पति-पत्नी की करंट लगने से मौत हो गई. जबकि  तीन अन्य लोग मामूली रूप से जख्मी हो गए हैं. घटना बिहटा थाना क्षेत्र के सहबाजपुर गांव की है. जानकारी अनुसार गुरुवार की सुबह दोनों पति-पत्नी खेत में काम कर रहे थे. इसी दौरान वे खेत में टूट कर गिरे हुए बिजली की तार के संपर्क में आ गए. इस हादसे में दोनों की झुलस कर मौके पर ही मौत हो गई. 

घायलों का चल रहा इलाज

वहीं, दोनों को बचाने गए तीन लोग मामूली रूप से जख्मी बताए जा रहे हैं, जिनका इलाज चल रहा है. मृतक की पहचान शहबाजपुर निवासी अकलू महतो के 40 वर्षीय पुत्र उपेंद्र कुमार और पत्नी की पहचान नीलू देवी के रूप में हुई है. जबकि घायलों की पहचान अकलू महतो ,अकलू महतो की पत्नी और राहुल कुमार के रूप में हुई है.

बिजली विभाग पर लापरवाही का आरोप

स्थानीय लोगों ने बताया कि खेत में काम कर रहे पति-पत्नी खेत में पहले से गिरे 440 वोल्ट की तार के संपर्क में आ गए, जिससे उनकी मौत हो गई. मौत की सूचना मिलने के बाद मृतक के परिजनों में कोहराम मच गया. नाराज परिजन शव को लेकर बिहटा के राघोपुर स्थित बिजली विभाग कार्यालय पहुंचे और मुख्य द्वार के पास शव को रखकर बिजली विभाग पर लापरवाही का आरोप लगाकर प्रदर्शन करने लगे. नाराज लोगों ने बिहटा-औरंगाबाद मुख पथ को आगनजी कर जाम कर दिया और जमकर बिजली विभाग के खिलाफ नारेबाजी की. 

परिजनों को दिया मुआवजा

इधर, घटना की सूचना पाकर बिहटा थानाध्यक्ष ऋतुराज सिंह मौके पर पहुंचे और आक्रोशित लोगों को समझाने में जुट गए. हगांमा बढ़ता देख अंचलाधिकारी कन्हैया लाल भी मौके पहुंचे और बिजली विभाग के अधिकारियों से बात की. विभाग के आदेश के बाद बिजली विभाग के एक्सीक्यूटिव प्रवेज आलम ने अंचलाधिकारी द्वारा चार-चार लाख रुपये का चेक काट कर मृतक के परिजनों को दिया.

मुआवजा मिलने के बाद लोगों ने प्रदर्शन बंद किया, जिसके बाद शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया. वहीं, यातायात को चालू कराया गया. इस संबंध में बिहटा थानाध्यक्ष ऋतुराज सिंह ने बताया कि करंट लगने से पति-पत्नी की मौत हुई है. परिजनों को मुआवजा दे दिया गया है. फिलहाल मृतक के परिजनों के तरफ से कोई लिखित आवेदन नहीं आया है. आवेदन मिलने के बाद आगे कार्रवाई की जाएगी.

यह भी पढ़ें –

शिवानंद तिवारी के बयान पर JDU का तंज, ‘दूध से मक्खी की तरह निकालकर फेंक दिया गया फिर भी तेज प्रताप यादव शांत’

UPSC Topper Shubham Kumar: पटना में अपने बचपन वाले स्कूल में पहुंचे शुभम कुमार, पुरानी बातों को किया याद

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button