States

सरकारी स्कूल का निर्माणाधीन भवन भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ा, टपकने लगी छतें

Corruption in School construction: देश की आजादी के लिए अंग्रेजी हुकूमत से बगावत करने वाले शहीद के नाम पर बना स्वतंत्रता संग्राम सेनानी भजन सिंह तोपाल राजकीय इंटर कालेज कनखुल में निर्माणाधीन स्कूल का भवन तैयार होने से पहले ही दम तोड़ने लगा है. निर्माणधीन भवन का कार्य पूरा होने से पहले ही भवन की छत से पानी टपकने लगा है, ऐसे में बच्चे कैसे पढ़ेंगे और कैसे बढेंगे, यह बड़ा सवाल है, जिसके चलते स्कूली बच्चों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. ग्रामीणों ने मांग की है कि, स्कूल के भवन निर्माण के गुणवत्ता की जांच और संबंधित विभाग व ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए.
  

स्कूल बनने से पहले चूने लगी छत

सरकार बच्चों को पढ़ाने के लिए पैसा खर्च करती है, और तमाम तरह की योजनाएं चलाकर उन्हें इस काबिल बनाती है, जिससे बच्चों का भविष्य उज्ज्वल हो सके. लेकिन बच्चों को पढ़ाने के लिये किये जा सके प्रयास उन तक पहुंचने से पहले ही कमीशनखोरी और लापरवाही के चलते पहले ही दम तोड़ रही हैं. मामला चमोली जिले के कर्णप्रयाग ब्लाक के अंतर्गत स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के नाम पर बने भजन सिंह तोपाल राजकीय इंटर कालेज कनखुल का है. जहां वर्ष 2017 में चार कमरों का भवन निर्माण कार्य शुरू होने के बाद आज चार साल बीत जाने को है, लेकिन चार कमरों के भवन का भवन निर्माण कार्य अभी तक पूरा नहीं हो पाया है, जिसके चलते स्कूली बच्चों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

ग्रामीणों ने लगाया आरोप 

ग्रामीणों ने बताया कि, भवन निर्माण में प्रयोग की गई घटिया गुणवत्ता के चलते चार कमरों के इस भवन की छत टपकने लग गई है. ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि, चार कमरों के इस भवन में बच्चे कैसे पढ़ सकते हैं?  ग्रामीणों ने मांग की है कि, स्कूल में बच्चों के लिए बन रहे इस भवन की गुणवत्ता की जांच होनी चाहिए, ताकि ऐसे कमीशन खोर विभागीय अधिकारियों की आड़ में भवन निर्माण का कार्य कर रहे ठेकेदार के खिलाफ कार्रवाई हो सके. वहीं, विभागीय अधिकारियों का कहना है कि, दो बार उन्होंने खुद मौके पर जाकर इसकी रिपोर्ट उच्च अधिकारियों तक दे दी है.

ये भी पढ़ें.

Lakhimpur Kheri Violence: केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा तीन बजे कर सकते हैं सरेंडर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button