States

पीलीभीत में गड्ढों ने खराब कर रखी है सड़कों की हालत, नेताओं के दावों से अलग, जानें जमीनी हकीकत 

Pilibhit Potholes on Roads: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पीलीभीत (Pilibhit) जिले में योगी सरकार के साढ़े चार वर्ष पूरे होने पर जिले की चारों विधानसभा के क्षेत्रीय विधायक अपने-अपने क्षेत्र में सड़कों का जाल बिछाकर गड्ढा मुक्त प्रदेश बनाने का दावा पेश कर रहे हैं. इस दावे को लेकर एबीपी गंगा की टीम ने पड़ताल की तो सदर विधानसभा क्षेत्र से सटे बरेली हाईवे सहित शहर की मेन सड़क से लेकर जिला अस्पताल तक काफी गड्ढे नजर आए. यही नहीं बीसलपुर विधानसभा क्षेत्र का भी कुछ यही हाल है. वहीं, दूसरी ओर पूरनपुर विधानसभा क्षेत्र में घुंघचाई से लेकर खुटार रोड से लखनऊ (Lucknow) को जोड़ने वाली आधा दर्जन से अधिक सड़कें (Roads) खराब ही नहीं बल्कि गड्ढा युक्त मिली हैं. स्थानीय जनता ने शहर की मेन सड़कें खासकर जिला अस्पताल (District Hospital) को जाने वाली सड़कों सहित हाईवे को जोड़ने वाली सडकों को ठीक करवाने की मांग की है.

जर्जर हाल में हैं सड़कें 
पीलीभीत जिले से बरेली हाईवे की सड़क सहित तमाम ग्रामीण इलाकों की मेन सड़कों को जोड़ने वाले मार्ग पूरी तरह जर्जर हैं. बीसलपुर बरेली और बीसलपुर से शहाजहांपुर को जोड़ने वाली सड़क भी जर्जर हाल में है. यही हाल पूरनपुर और बरखेड़ा विधानसभा की सड़कों का है. यही नहीं अगर किसी मरीज या प्रूसता को जिला अस्पताल तक पहुंचना है तो शहर में प्रवेश करने से लेकर जिला अस्पताल पहुंचने के लिए गड्ढा युक्त सड़क से ही गुजरना पड़ता है. सड़कों की हालत को लेकर  जिम्मेदार जनप्रतिनिधि और आधिकरी ध्यान नहीं दे रहे हैं. फिलहाल, एबीपी गंगा के रियलिटी चेक के बाद जिलाधिकारी ने जल्द ही सम्बंधित विभागों के जरिए सड़क ठीक कराए जाने के निर्देश दिए हैं. 

15 नवंबर तक ठीक कराए जाने की कही बात 
वहीं, जिले में गड्ढा युक्त सड़कों को लेकर जिलाधिकारी पुलकित खरे ने सम्बंधित मंडी, लोक निर्माण खंड सहित तमाम विभागों को निर्देश दिए हैं. खराब सड़कों के निर्माण कार्य के लिए मरम्मत कराए जाने के निर्देश मिलने के बाद अधिकारियों ने सड़कों को 15 नवंबर तक ठीक कराए जाने की बात कही है.

ये भी पढ़ें:  

UP Police: वर्दी की दहशतगर्दी, जानें- कहां शिकायत करने वाली महिला और उसके भाई को पुलिस ने बेरहमी से पीटा

Lakhimpur Kheri Violence: आशीष मिश्रा पर गैर इरादतन हत्या और बलवा की धाराओं में केस दर्ज, FIR में मंत्री अजय मिश्रा का भी नाम

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button