States

लखीमपुर खीरी की घटना पर मायावती ने कहा- घटना में बीजपी के दो मंत्री की संलिप्तता

लखनऊः लखीमपुर खीरी में किसानों की मौत की घटना को लेकर बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने दुख जताया है और भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार पर करारा हमला बोला है. इस दौरान उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी कांड में बीजेपी के दो मंत्रियों की संलिप्तता के कारण घटना की सही जांच हो पाएगी मुझे ऐसा नहीं लगता है. मायावती ने कहा कि इस घटना में अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है. उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी मांग करती है कि इस घटना की न्यायिक जांच की जाए.

मायावती ने ट्वीट कर कहा, ”बीएसपी के राष्ट्रीय महासचिव व राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र मिश्र को रविवार देर रात लखनऊ में उनके निवास पर नजरबंद कर दिया गया जो अभी भी जारी है, ताकि उनके नेतृत्व में पार्टी का प्रतिनिधिमंडल लखीमपुर खीरी जाकर किसान हत्याकांड की सही रिपोर्ट न प्राप्त कर सके. यह अति-दुःखद व निंदनीय है.

 

मायावती ने कहा, ”यूपी के दुखद खीरी कांड में भाजपा के दो मंत्रियों की संलिप्तता के कारण इस घटना की सही सरकारी जांच व पीड़ितों के साथ न्याय और दोषियों को सख्त सजा संभव नहीं लगती है. इसलिए इस घटना की, जिसमें अब तक 8 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है. बीएसपी इस घटना की न्यायिक जांच की मांग करती है.”

क्या है पूरा मामला?

बता दें कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के गांव में वार्षिक कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन हुआ था. इस कार्यक्रम में डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य को भी शामिल होना था. इसमें शामिल होने के लिए यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य पहुंचे थे. किसान डिप्टी सीएम का विरोध करने के लिए पहुंचे थे. आरोप है कि इस दौरान कथित तौर पर अजय मिश्रा के समर्थकों की गाड़ी से किसानों की टक्कर हो गई. इस घटना के बाद बवाल हो गया, जिसमें छह किसानों की मौत हो गई. डीएम ने 6 लोगों के मौत की पुष्टि की है. घटना के बाद इलाके में तनावपूर्ण माहौल है. केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र टेनी के बेटे अभय मिश्र मोनू पर किसानों को गाड़ी से कुचलने की कोशिश करने के आरोप लग रहे हैं. कुछ किसान संगठनों ने फायरिंग करने का आरोप भी लगाया.

प्रियंका गांधी को सीतापुर पुलिस ने हिरासत में लिया, फिलहाल PAC के गेस्ट हाउस में रखा गया

Lakhimpur Kheri Violence: मनीष सिसोदिया की सीएम योगी को चेतावनी, ‘किसान परिवार के ये आंसू भारी पड़ेंगे’

 



Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button