States

तेज प्रताप के आरोप ने बढ़ाया सियासी पारा, BJP ने तेजस्वी से मांगा स्पष्टीकरण, JDU ने दी ये नसीहत

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री रहे आरजेडी (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को दिल्ली में बंधक बनाकर रखा गया है. ये बात शनिवार को एक कार्यक्रम के दौरान खुद उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) ने कही. उन्होंने चार-पांच लोगों पर आरोप लगाते हुए ये बात कही. उनके इस आरोप के बाद नया विवाद शुरू हो गया है. सत्ता पक्ष के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को घेर रहे हैं. वहीं, पूरे मामले पर स्पष्टीकरण की मांग कर रहे हैं.

 बीजेपी ने तेजस्वी यादव से मांगा स्पष्टीकरण

बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने रविवार को कहा, ” लालू प्रसाद यादव बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री रहे हैं. हमारे बीच राजनीतिक आरोप- प्रत्यारोप, विरोध-प्रतिरोध होता रहता है लेकिन निजी तौर पर हम सब उनका दिल से बहुत सम्मान करते हैं. उनके बड़े बेटे तेजप्रताप यादव ने अपने पिताजी के बारे में कुछ लोगों द्वारा दिल्ली में बंधक बनाकर रखने की बातें सार्वजनिक तौर पर कही है, जो गंभीर बातें है. हालांकि, ये विषय उनके परिवार का निहायत ही अंदरूनी, व्यक्तिगत और पारिवारिक मामला है, लेकिन हम सबकी चिंता भी स्वाभाविक है.”

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा, ” अब इस तरह की गंभीर बातें सुनकर जो हमारी चिंता है, उसपर परिवार की ओर से कोई व्यक्ति या फिर स्वयं तेजस्वी यादव ही स्पष्टीकरण दे दें. तो बेहतर होगा क्योंकि हम सब सहित उनके सभी चाहने वाले भी लालू यादव के स्वस्थ, सुरक्षित होने को लेकर आश्वस्त हो सकते हैं. हम सभी ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि आदरणीय लालू जी हमेशा स्वस्थ, खुशहाल, सुरक्षित रहें और दीर्घायु हों.”

जेडीयू प्रवक्ता ने दी नसीहत

इधर, जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा कि किसने किसे बंधक बनाकर रखा है ये आरजेडी का आंतरिक मामला है. लेकिन नीतीश कुमार ने राज्य में वरिष्ठ नागरिक एवं माता-पिता भरण पोषण अधिनियम 2007 बनाया है, जिसमें माता पिता की सुरक्षा को लेकर कानूनी व्यवस्था की गई. जीवन, संपत्ति, भरण पोषण समेत अन्य मुद्दों पर दिक्कत होने पर अनुमंडल पदाधिकारी के यहां पत्र दिया जाता है. ऐसे में अगर वाकई ऐसी स्थिति है तो कानून बना हुआ है, अब इसका फायदा लेना है या नहीं ये वो समझें.

यह भी पढ़ें –

तेजप्रताप यादव का आरोप- पिता लालू यादव को दिल्ली में ‘बंधक’ बनाकर रखा गया, पटना नहीं आने दिया जा रहा

LJP Symbol Freeze: चिराग पासवान और पशुपति कुमार पारस को चुनाव आयोग से लगा झटका, चुनाव चिह्न किया फ्रीज

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button