States

सीएम योगी ने कही बड़ी बात, बोले- पुलिस की कार्रवाई निष्पक्ष है तो नहीं लगेगा सवालिया निशान

Lucknow Police Alankaran Samaroh: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने शनिवार को यहां पुलिस अलंकरण समारोह (Police Alankaran Samaroh) में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 75 पुलिसकर्मियों को विभिन्न पदकों से सम्मानित किया और पुलिस बल को नसीहत देते हुए कहा कि ‘किसी भी मामले को सुलझाने में पुलिस (Police) की निष्पक्ष विवेचना अत्यन्त आवश्यक है.’ सीएम योगी ने कहा कि, ”पुलिस की कार्रवाई यदि निष्पक्ष है, तो उस पर सवालिया निशान नहीं लगेगा, अन्यथा मीडिया ट्रायल शुरू हो जाएगा, जिससे जनता के मन में पुलिस की छवि धूमिल होगी.”

पुलिस की हुई किरकिरी 
गौरतलब है कि, कानपुर के एक व्यापारी की गोरखपुर में पुलिस की कथित पिटाई से मौत के मामले में पुलिस की खूब किरकिरी हुई और राज्य सरकार ने परिजनों की मांग पर घटना की जांच सीबीआई से कराए जाने के लिए शुक्रवार को केंद्र सरकार से सिफारिश की है. 

दुनिया का सबसे बड़ा पुलिस बल है
पुलिस मुख्यालय में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने पुलिस बल को कर्तव्य और उत्तरदायित्व की याद दिलाते हुए कहा कि, ‘उत्तर प्रदेश का पुलिस बल देश ही नहीं वरन दुनिया का सबसे बड़ा पुलिस बल है और इतने बड़े संगठन से जुड़कर प्रत्येक पुलिसकर्मी को गौरवान्वित होना चाहिए. इस विशाल पुलिस बल से जुड़े पुलिसकर्मियों को अपने संगठन की उन्नति और उसकी विश्वसनीयता को बनाए रखने में अपना सक्रिय और सकारात्मक योगदान देना चाहिए.’

पुलिस की महत्वपूर्ण भूमिका है
सीएम ने कहा कि, ‘प्रदेश में कानून-व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस की महत्वपूर्ण भूमिका है, अच्छी कानून-व्यवस्था का सकारात्मक प्रभाव प्रदेश के चतुर्दिक विकास पर पड़ता है और प्रदेश में बड़े पैमाने पर निवेश आता है, जिससे रोजगार का सृजन होता है.’

मीडिया ट्रायल की स्थिति ना बने
शनिवार को जारी सरकारी बयान के अनुसार पुलिस मुख्यालय में आयोजित समारोह में 15 पुलिसकर्मियों को मुख्यमंत्री उत्कृष्ट सेवा पुलिस पदक, 35 कर्मियों को वीरता के लिए पुलिस पदक तथा 25 पुलिसकर्मियों को विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस पदक से सम्मानित किया गया. मुख्यमंत्री ने कहा कि ‘हर हाल में इस बात का प्रयास होना चाहिए कि किसी भी मामले में मीडिया ट्रायल की स्थिति ना बने. इसे रोकने के लिए यह आवश्यक है कि पुलिस मीडिया के सामने सही तथ्यों को संक्षेप में समयबद्धता के साथ रखे.’ उन्होंने सोशल मीडिया की निगरानी पर भी बल दिया और कहा कि जनता की सुरक्षा राज्य सरकार का दायित्व है और इसमें पुलिस की महत्वपूर्ण भूमिका है.’

जनमानस का विश्वास अर्जित करे पुलिस 
इस मौके पर महात्मा गांधी को नमन करते हुए सीएम योगी ने कहा कि, ‘महात्मा गांधी ने हमेशा निर्धन और कमजोर वर्ग के उत्थान पर विशेष ध्यान दिया, समाज के वंचित, उपेक्षित और गरीब लोगों की रक्षा करना, उन्हें न्याय दिलाना हमारा कर्तव्य है और आम जनता पुलिस से अपेक्षा करती है कि वो अपने अच्छे आचरण एवं व्यवहार से जनता की सेवा करे तथा सही दिशा देकर जनमानस का विश्वास अर्जित करे.’

मानव सम्पदा पोर्टल की हुई शुरुआत
मुख्यमंत्री के समक्ष साइबर क्राइम पर केन्द्रित एक फिल्म का भी प्रदर्शन किया गया. मुख्यमंत्री ने ‘उत्तर प्रदेश पुलिस मानव सम्पदा पोर्टल’ की शुरुआत की. अतिथियों का स्वागत पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल ने किया जबकि अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) प्रशान्त कुमार ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया. 

ये भी पढ़ें:  

UP Politics: गांधी जयंती के मौके पर भाजपा और कांग्रेस पर भड़के अखिलेश यादव, बोले- जनता बनाएगी ‘कार्टून’

UP Police Alankaran Samaroh: आईपीएस लक्ष्मी सिंह ने घर-घर तक पहुंचाया ‘मिशन शक्ति’ अभियान, उत्कृष्ट सेवा मेडल से किया गया सम्मानित

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button