States

भारत को हिन्दू राष्ट्र घोषित करने की मांग, संत परमहंस ने किया है ‘जल समाधि’ लेने का एलान

Ayodhya Saint Paramhans Demand for Hindu Rashtra: 2 अक्टूबर समय दोपहर 12 बजे, यही वो तारीख और समय है जब अयोध्या (Ayodhya) के तपस्वी छावनी के संत परमहंस (Saint Paramhans) ने सरयू (Saryu) में जल समाधि (Jal Samadhi) लेने का एलान किया है. ये समय सीमा उन्होंने केंद्र सरकार के लिए तय की थी और कहा था कि अगर इस समय सीमा तक भारत को हिन्दू राष्ट्र (Hindu Rashtra) घोषित नहीं किया जाता तो वो जल समाधि ले लेंगे. इसके पहले शुक्रवार को हिन्दू सनातन धर्म संसद का आयोजन किया गया, जिसमें कई प्रदेशों के अलग-अलग संगठनों से जुड़े लोग शामिल हुए और हिन्दू राष्ट्र संबंधी नारे लगाए और जयघोष किया. 

सक्रिय है अयोध्या पुलिस
आपको बता दें, कि कुछ माह पहले भी संत परमहंस ने इसी मांग को लेकर तपस्वी छावनी में ही चिता सजाई थी और उस पर जलने की बात कही थी. लेकिन, उसके पहले ही अयोध्या पुलिस ने उन्हें घर में ही नजरबंद कर दिया था. जिसके बाद उन्होंने 2 अक्टूबर को जल समाधि लेने की घोषणा की थी. इस बार भी अयोध्या पुलिस सक्रिय है और कह रही है कि जल समाधि जैसी किसी भी प्रकार की घटना नहीं घटने दी जाएगी.  

हिंदू राष्ट्र होने तक संघर्ष करते रहें
तपस्वी छावनी के संत परमहंस ने कहा कि आज हिंदू सनातन धर्म संसद का आयोजन हुआ है. देश के 29 राज्यों से हिंदूवादी संगठनों के कुछ ना कुछ प्रतिनिधि आए हुए हैं. उन्होंने कहा कि जैसी घोषणा की थी कि 2 अक्टूबर 2021 को दिन में 12:00 बजे यदि भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित नहीं किया गया तो वो सरयू जी में जल समाधि ले लेंगे, उसको लेकर हिंदू सनातन धर्म संसद को बुलाया है. हिंदूवादी संगठन देश प्रेमी है, राष्ट्रीय एकता और अखंडता के लिए मानवता की रक्षा के लिए भारतीय संस्कृति की रक्षा के लिए मेरे मरने के बाद हमारी आवाज बनें और जब तक भारत हिंदू राष्ट्र घोषित ना हो जाए संघर्ष करते रहें. उसी परिप्रेक्ष में आज हिंदू सनातन धर्म संसद संपन्न हुई है. 

ये भी पढ़ें:

UP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले गोंडवाना गणतंत्र पार्टी का सपा के साथ गठबंधन, जन परिवर्तन दल का हुआ विलय

Balveer Giri Pattabhishek: महंत नरेंद्र गिरि की षोडसी और बलवीर की ताजपोशी के लिए छपवाए गए 2 तरह के कार्ड, इन्हें भेजा जाएगा VIP कार्ड   

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button