States

यूथ के सहारे बूथ विजय की तैयारी में बीजेपी, पार्टी ने तैयार की है फुल प्रूफ योजना

UP Election BJP Preparing for Booth Victory: मिशन 2022 के लिए बीजेपी (BJP) जोर-शोर से जुटी हुई है, इसके लिए पार्टी ने अपना फोकस युवाओं (Youth) पर किया हुआ है. आज युवा मोर्चा की प्रदेश कार्यसमिति बैठक लखनऊ (Lucknow) के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में हुई. इस बैठक में युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सांसद तेजस्वी सूर्या (Tejasvi Surya) शामिल हुए. बैठक के समापन सत्र को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने संबोधित किया तो वहीं महामंत्री संगठन सुनील बंसल (Sunil Bansal) ने युवाओं को जीत का मंत्र दिया. 

यूथ ही जिताएंगे बूथ 
दरअसल, इस बार बीजेपी की तैयारी अपने इस यूथ ब्रिगेड के साथ प्रदेश की 1 लाख 63000 बूथ पर जीत हासिल करने की है. इसके लिए पार्टी ने अपनी पूरी रूपरेखा भी तैयार कर ली है और अब उसी के अनुसार आगे बीजेपी काम करती नजर आएगी. लखनऊ में लगभग एक दशक बाद युवा मोर्चा की ये प्रदेश कार्यसमिति की बैठक हुई, जिसमें युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष प्रांशु द्विवेदी, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रत देव सिंह, यूपी प्रभारी राधा मोहन सिंह शामिल हुए और सभी ने युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया. प्रदेश कार्यसमिति में युवा मोर्चा ने आज एक नया नारा 350 सीट जीतने का दिया है. सांसद तेजस्वी सूर्या का साफ तौर पर कहना है कि बीजेपी ही एक ऐसी पार्टी है जहां पर युवाओं को इतनी तरजीह दी जाती है, और चुनाव में ये यूथ ही बूथ जिताएंगे.

पार्टी युवाओं को देगी टिकट 
उत्तर प्रदेश में लगभग 15 वर्षों बाद ऐसा हुआ है जब सभी 98 संगठनात्मक जिलों में युवा मोर्चा ने अपनी टीम गठित की है. युवा मोर्चा की अगर बात करें तो उत्तर प्रदेश में प्रदेश स्तर पर एक प्रदेश अध्यक्ष और 8 प्रदेश उपाध्यक्ष हैं, तीन महामंत्री, 8 मंत्री, एक मीडिया प्रभारी और एक कोषाध्यक्ष है. जबकि, प्रदेश कार्यकारिणी में लगभग 77 लोग शामिल हैं. इसके अलावा 98 संगठनात्मक जिलों में जिला अध्यक्ष और वहां दो-दो महामंत्री हैं. इसके अलावा बीजेपी ने उत्तर प्रदेश में संगठन को 6 क्षेत्रों में बांटा है, जहां क्षेत्रीय अध्यक्ष भी मौजूद है. क्षेत्रीय पदाधिकारियों की बात करें तो हर क्षेत्र में उपाध्यक्ष, महामंत्री और मंत्री शामिल हैं. युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष प्रांशु दत्त द्विवेदी का कहना है कि इस बार के चुनाव में युवाओं की भूमिका ना केवल बूथ पर होगी बल्कि पार्टी युवाओं को टिकट भी ज्यादा संख्या में देगी. 

युवाओं पर है खास फोकस 
दरअसल, उत्तर प्रदेश की 24 करोड़ की आबादी में 6 करोड़ युवा हैं और इसीलिए इस बार के चुनाव के लिए बीजेपी ने अपनी जो रणनीति तैयार की है उसके मुताबिक युवा मोर्चा के एक-एक पदाधिकारी को 20-20 सदस्य जोड़ने की जिम्मेदारी सौंपी गई है. पूरे प्रदेश में लगभग युवा मोर्चा के कार्यकर्ताओं की संख्या 50 हजार के आसपास है और 10 लाख नए सदस्य जोड़ने की जिम्मेदारी इस बार युवा मोर्चा को संगठन ने सौंपी है. इसके अलावा तीन महत्वपूर्ण कार्यक्रम में जो सीधे युवाओं से जुड़े हैं उसकी जिम्मेदारी युवा मोर्चा के कंधों पर दी गई है. इसमें 1918 मंडलों में युवा संवाद करने का कार्यक्रम, खेलों से युवाओं को जोड़ते हुए खेलकूद से जुड़े कार्यक्रम करने हैं और इसके अलावा प्रोफेशनल्स एमबीए, एमबीबीएस करने वाले युवाओं को जोड़ते हुए यूथ कॉन्क्लेव पूरे प्रदेश में किए जाएंगे. बीजेपी विधायक और युवा मोर्चा के प्रभारी पंकज सिंह का साफ तौर पर कहना है कि इस बार तैयारी यूथ के सहारे बूथ जीतने की है.  

महिलाओं पर भी है फोकस 
बीजेपी का फोकस यूथ पर तो है ही साथ ही साथ महिलाओं पर भी इस बार पार्टी ने खास फोकस किया हुआ है और यही वजह है कि महिला मोर्चा को भी 2022 के चुनाव के लिए अलग जिम्मेदारी सौंपी है. आज लखनऊ में पार्टी मुख्यालय में बीजेपी महिला मोर्चा के प्रदेश पदाधिकारियों की बैठक हुई. जिसमें 2022 के चुनाव को देखते हुए आगामी कार्यक्रमों की रणनीति तय हुई. इसमें खासतौर से महिला मोर्चा को तीन मुख्य कार्यक्रम दिए गए हैं, उनमें कमल सन्देश यात्रा, उज्जवला से जुड़े कार्यक्रम और सदस्यता अभियान शामिल हैं. महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष और राज्यसभा सदस्य गीता शाक्य का साफ तौर पर कहना है कि महिला मोर्चा पूरी तरह से 2022 के चुनाव के लिए तैयार हैं और इस बार पार्टी महिलाओं को भी चुनाव में ज्यादा टिकट देगी. वहीं, मायावती और प्रियंका गांधी वाड्रा के सवाल पर उनका कहना है कि वो पहले भी उत्तर प्रदेश में अपनी अपनी पार्टी का नेतृत्व कर चुकी हैं लेकिन नतीजा सबके सामने है. 

आसान होगी जीत की राह 
बीजेपी ने अपनी जो रणनीति तैयार की है उसके अनुसार यूपी में इस बार सबसे ज्यादा वोटर युवा होगा और इसीलिए पार्टी ने खास फोकस इन्हीं युवा वोटरों पर किया है. जल्द ही वोटर लिस्ट में 18 प्लस वाले नए वोटर का नाम जुड़वाने का भी अभियान युवा मोर्चा शुरू करने जा रहा है. बीजेपी की कोशिश है कि युवाओं को ज्यादा से ज्यादा पार्टी के साथ जोड़ा जाए जिससे 2022 में बीजेपी की जीत की राह आसान हो सके.  

ये भी पढ़ें:  

Balveer Giri Pattabhishek: महंत नरेंद्र गिरि की षोडसी और बलवीर की ताजपोशी के लिए छपवाए गए 2 तरह के कार्ड, इन्हें भेजा जाएगा VIP कार्ड   

UP Election 2022: यूपी चुनाव के लिए कब जारी होगी कांग्रेस उम्मीदवारों की पहली लिस्ट? पार्टी खेमे से आई है बड़ी खबर

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button