States

महंत नरेंद्र गिरि के इस करीबी शिष्य की शादी के वीडियो देखकर CBI हो गई हैरान, करेगी जांच

Mahant Narendra Giri Student Royal Marriage: अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष रहे महंत नरेंद्र गिरि (Mahant Narendra Giri) की संदिग्ध मौत के मामले की जांच कर रही सीबीआई (CBI) ने मामले के खुलासे के लिए अब महंत के पुराने शिष्यों और मठ से जुड़े तमाम दूसरे लोगों की आर्थिक हैसियत और रसूख की परतें उधेड़नी भी शुरू कर दी है. इस बीच सीबीआई की टीम को महंत नरेंद्र गिरि के बेहद नज़दीकी शिष्य अभिषेक मिश्र की चार महीने पहले हुई शादी के कुछ वीडियो भी बरामद हुए हैं. बेहद साधारण परिवार के अभिषेक की शादी शाही अंदाज़ में हुई थी. इस शादी में लाखों नहीं बल्कि एक करोड़ रूपये से ज़्यादा खर्च किये गए थे. हल्दी से लेकर फेरे लेने और रिसेप्शन से लेकर मुंह दिखाई तक की रस्म में जमकर नोट उड़ाए गए थे.

खुद महंत नरेंद्र गिरि भी इस शाही शादी में गवाह बने थे. उनकी मौजूदगी में भी अभिषेक के परिवार वालों और दोस्तों के साथ ही मठ से जुड़े तमाम लोगों ने भी जमकर नोटों की बारिश की थी. शादी में मुम्बई से बुलाई गई बार बालाओं के डांस के दौरान तो नोट इस कदर उड़ाए जा रहे थे कि ऐसा लग रहा था मानो नोट किसी आटोमेटिक मशीन से निकल कर हवा में उड़ रहे हैं. सीबीआई अब इन वीडियोज़ के आधार पर अभिषेक मिश्र से भी पूछताछ करने की तैयारी में है. अभिषेक मिश्र की शाही शादी को सीबीआई अपनी जांच के दायरे में लाने जा रही है. शादी के साथ ही जौनपुर में कुछ सालों पहले बने अभिषेक की महलनुमा कोठी के बारे में भी सीबीआई ने अपनी पड़ताल शुरू कर दी है.

abp चैनल के पास इस बात की पुख्ता जानकारी है कि महंत नरेंद्र गिरि के इस शिष्य की शाही शादी के वीडियो देखकर खुद सीबीआई की टीम भी हैरत में पड़ गई. abp गंगा चैनल को भी महंत नरेंद्र गिरि के करीबी शिष्य अभिषेक की शादी के कुछ Exclusive वीडियो हाथ लगे हैं. इन वीडियो में जिस तरह से पैसे उड़ाए और लुटाए जा रहे हैं. जिस तरह बार बालाओं का डांस हो रहा है. जिस तरह मेहमानों के स्वागत में रेड कार्पेट बिछाई गई हैं और जिस तरह से बैंड बाजे और लाइटिंग पर लाखों रूपये खर्च किये गए, वह न सिर्फ हैरान करने वाले हैं बल्कि तमाम सवाल भी खड़े कर रहे हैं.

जब अभिषेक की शादी हुई तो कोरोना की दूसरी लहर चरम पर थी

दरअसल, सीबीआई अभिषेक से पूछताछ कर यह पता लगाने की कोशिश करेगी कि बेहद साधारण परिवार की शादी में खर्च किये गए एक करोड़ रूपये आखिरकार कहां से आए. कहीं यह पैसे मठ के तो नहीं थे. क्या मुख्य आरोपी आनंद गिरि ने अपने गुरु महंत नरेंद्र गिरि पर कुछ करीबी शिष्यों पर ज़्यादा मेहरबान होने और उन पर दौलत लुटाने के जो आरोप लगाए थे, कहीं वह सच तो नहीं हैं. कहीं अभिषेक की शाही शादी में पानी की तरह बहाए गए पैसों का ताल्लुक महंत नरेंद्र गिरि के मौत से तो नहीं है. सीबीआई की टीम को अभिषेक मिश्र की शाही शादी के वीडियोज आनंद गिरि के लैपटॉप और मोबाइल फोन से बरामद  हुए हैं. 18 मई को जब अभिषेक की शादी हुई तो कोरोना की दूसरी लहर चरम पर थी. शादी समारोहों पर बंदिश थी. सिर्फ सादगी के साथ चुनिंदा लोगों की मौजूदगी में ही फेरे लेने की अनुमति थी.

सूत्रों के मुताबिक़ इसी साल 18 मई को हुई अभिषेक मिश्र की शादी के दौरान आनंद गिरि और नरेंद्र गिरि के रिश्ते बिगड़ चुके थे. गुरु चेले में बातचीत भी नहीं होती थे. सीबीआई यह भी पता लगाएगी कि अगर आनंद गिरि शादी के दौरान प्रयागराज में नहीं थे तो उनके पास नोट उड़ाने के वीडियो कहां से आए. सूत्रों का दावा है कि महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत मामले में गिरफ्तार तीसरे आरोपी संदीप तिवारी ने आनंद गिरि को यह वीडियो भेजे थे. संदीप ने यह वीडियो खुद बनाए थे या उसने इन्हे कहीं से हासिल किया था, यह साफ़ होना अभी बाकी है. बहरहाल जांच एजेंसी सीबीआई अब महंत नरेंद्र गिरि के करीबी शिष्य अभिषेक मिश्र की चार महीने पुरानी शाही शादी के तार खुदकुशी मामले से जुड़ने की संभावनाएं तलाशने में लग गई है. सीबीआई की जांच में आखिरकार क्या कुछ निकलेगा, इसका फैसला तो वक़्त करेगा, लेकिन एबीपी गंगा चैनल पर अभिषेक की शादी में नोटों को लुटाए जाने का यह अंदाज़ यकीनन आपको हैरान कर देगा.

यह भी पढ़ें-

Lucknow: नौकरी से पूरे नहीं हुए खर्चे तो बन गईं कॉलगर्ल, 7 युवतियां और 2 एजेंट गिरफ्तार, बड़े सेक्स रैकेट का खुलासा

UP Election 2022: यूपी में JDU लड़ेगी विधानसभा चुनाव, पार्टी को BJP से गठबंधन की उम्मीद, नीतीश कुमार करेंगे रैलियां

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button