States

मासूम की हत्या का पुलिस ने किया खुलासा, रेप के बाद की गई थी बच्ची की हत्या

Aligarh Crime News: अलीगढ़ (Aligarh) के थाना गौण्डा क्षेत्र में हुई चार साल की बच्ची की हत्या का पुलिस ने 48 घंटे के अंदर खुलासा कर अभियुक्त को गिरफ्तार किया है. आरोपी मृतका के परिवार के पूर्व परिचित, घर से कुछ ही दूरी पर रहने वाले उसी बिरादरी/जाति का युवक है. पुलिस की गठित टीमों द्वारा अभियुक्त अर्जुन पुत्र फूल सिंह (जाटव) को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपी ने दुष्कर्म के बाद हत्या की बात स्वीकार की है.

खेत में मिला था बच्ची का शव 

दरअसल, 26 सितंबर को थाना गोंडा क्षेत्र के गांव नगला बिरखु में शाम 4 वर्षीय बच्ची के गायब हो जाने के संबंध में पुलिस को सूचना मिली. पुलिस ने तत्काल मुकदमा पंजीकृत कर बच्ची की खोजबीन शुरू कर दी. वहीं, 27 सितंबर को बच्ची का शव पुलिस व परिजनों को गांव के निकट धान के खेत में पानी के गड्डे में मिला था. जिसके बाद पुलिस जब मृतक बच्ची के शव को ले जाने लगी तो गांव वाले आक्रोशित हुए थे और उन्होंने पुलिस पर पथराव भी किया था जिसमें कुछ पुलिस वाले भी घायल हुए थे.

घटना के खुलासे के लिए चार टीमें बनाई गई थीं

घटना को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी कलानिधि नैथानी द्वारा स्वयं मौके पर पहुंचकर घटनास्थल का निरीक्षण किया. घटना के खुलासे के लिए एक टीम एसपी ग्रामीण, एक टीम थाना स्तर व दो टीमें जनपद स्तर पर, कुल चार टीमें गठित की गईं. टीमों को ब्रीफ कर घटना के बाद से गांव से गायब हुए आपराधिक/ नशेड़ी प्रवृत्ति के व्यक्तियों की पूर्ण जानकारी कर वास्तविक अभियुक्त का पता लगाने हेतु निर्देशित किया गया. साथ ही गांव में अतिरिक्त फोर्स लगाया गया. टीमों द्वारा सुरागरसी करते हुए सभी दुकानदार/पड़ोसी आदि से जानकारी प्राप्त करते हुए कई संदिग्ध चिन्हित किए. थाना गौण्डा पुलिस और जनपदीय क्राइम टीम द्वारा गांव के करीब 200 से अधिक लोगों से गहन पूछताछ की गयी. 

इस तरह धरा गया आरोपी 

टीम द्वारा सभी साक्ष्यों को संकलित करते हुए गहनता से पूछताछ में यह बात सामने आई कि, घटना से पूर्व अन्तिम बार मृतका के साथ उसी के गांव के एक युवक अर्जुन पुत्र फूल सिंह (जाटव) को देखा गया था, जो कि, मृतका के परिवार से पूर्व परिचित है तथा घर से कुछ ही दूरी पर रहता है और उसी बिरादरी/जाति का है, तथा पूर्व में आपस में उसका उठना बैठना रहा है. साथ ही पुलिस को पता चला कि, वह घटना के बाद से ही गांव से फरार हो गया है तथा खैर, पलवल व हरियाणा के शहरों में छुपता छुपाता भाग रहा है. अर्जुन का पीछा करने के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा मुख्यालय स्तर से दो अतिरिक्त टीमें लगाई गयीं. अभियुक्त अर्जुन दिशा बदल कर आगरा की तरफ अपनी रिश्तेदारियों में छिपने हेतु प्रयासरत हुआ लेकिन पुलिस टीम ने अर्जुन को हिरासत में लिया. जिससे विवेचना के क्रम में घटना से सम्बन्धित विस्तृत पूछताछ पुलिस द्वारा की गई.

अर्जुन ने स्वीकार की दुष्कर्म की बात 

कलानिधि नैथानी, एसएसपी अलीगढ़ ने कहा कि, पुलिस की पूछताछ में आरोपी अर्जुन द्वारा पुलिस को बताया गया कि, उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने के बाद उसकी हत्या कर दी थी और खेत में शव को फेंक कर फरार हो गया था. पुलिस ने आरोपी के बयान के आधार पर मामले में पोक्सो एक्ट की धारा भी बढ़ा दी है और अब पोस्टमार्टम के दौरान ली गई स्लाइड के परीक्षण की रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है. 

ये भी पढ़ें.

Uttarakhand: शहरी विकास मंत्री भी गन्ना मंत्री की राह, जहां भ्रष्टाचार किया वहीं दी अफसर को पोस्टिंग

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button