States

गाजियाबाद पुलिस ने किया दोहरे हत्याकांड का खुलासा, पैसों के लालच में भतीजे ने की हत्या

Ghaziabad Murder: गाजियाबाद के थाना ट्रॉनिका सिटी इलाके में 16 सितंबर की रात घर में सो रहे पिता-पुत्र की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है. ये खुलासा चौंकाने वाला है. इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने वाला और कोई नहीं बल्कि उसका सगा भतीजा ही निकला. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके कब्जे से 12 हजार की नकदी और चाकू के अलावा वो कपड़े भी बरामद कर लिए हैं, जो आरोपी ने घटना के वक्त पहने हुए थे.

दोहरे हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसपी देहात डॉक्टर ईराज राजा ने बताया, रामपाल कॉलोनी में रहने वाले नईमुल हसन और उसका 8 वर्षीय बेटा उवेश अपने ही घर पर अकेले थे. नईमउल का लकड़ी और स्क्रैप का कारोबार था. 16 सितंबर को पुलिस को सूचना मिली कि नईमुल और उसके बेटे की धारदार हथियार से निर्मम हत्या कर दी गई है. पुलिस को जैसे ही सूचना मिली थी मौके पर पहुंचकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था और मामले की तफ्तीश में जुट गई थी. 

पुलिस के लिए इस हत्याकांड की गुत्थी सुलझाना बहुत ही कठिन होता जा रहा था. मौके पर कई वरिष्ठ अधिकारी भी पहुंचे थे और मामला बेहद ही उलझा हुआ नजर आ रहा था. सर्विलांस और सूत्रों के सहारे पुलिस हत्यारे तक जा पहुंची. मुखबिर से सूचना मिली थी कि 19 वर्षीय मोरेज कि हाल में लोनी इलाके के राम पार्क लकड़ी की मार्केट में रह रहा था. जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. जब उससे गहन पूछताछ की गई तो उसने इस हत्याकांड का पूरा राज खोला जो चौंकाने वाला निकला.

पैसों के लालच में भतीजे ने की हत्या

एसपी देहात डॉक्टर ईरज राजा के मुताबिक, आरोपी मोरेज से जब गहन पूछताछ की गई तो उसने बताया कि वह अपने चाचा नईमुल के साथ ही काम करता था. मोरेज को यह जानकारी थी कि नईमुल के पास हाल में ही कहीं से पौने चार लाख रुपये मिले हैं. इसलिए उन पैसों को हड़पने के उद्देश्य से योजना बनाई और योजना के तहत 16 सितंबर की रात अपने चाचा के घर पहुंचा.

उसने कहा कि उसके पिताजी उसे बिहार ले जाना चाहते हैं और वह नहीं जाना चाहता. इसलिए आज रात को वह आपके पास ही रहेगा. जिसके बाद नईमुल ने उसे अपने घर पर ही सुला लिया. पूछताछ के दौरान मोरेज ने बताया कि उसकी देर रात में ही हत्या करने की योजना थी लेकिन दोनों ही गहरी नींद में सो गए. उधर नईमुल का बेटा भी पास में ही सोया हुआ था. सुबह करीब 3:00 बजे नईमुल टॉयलेट गया तो इसी बीच वह भी उठ कर ऊपर की मंजिल पर गया. जहां से उसने एक पुराना पंखा और चाकू लिया. 

चाकू से वार कर पिता-पुत्र की ली जान

उसके बाद फिर से वह अपनी चारपाई पर लेट गया. नईमुल भी टॉयलेट से आने के बाद अपनी चारपाई पर लेटा हुआ था. सुबह करीब 6:00 बजे के आसपास मोरेज ने नईमुल के सर पर पंखे से ताबड़तोड़ वार करने शुरू कर दिए. इतना ही नहीं चाकू से उसके पेट पर भी वार किए गए. जब कुछ आहट हुई तो पास में सो रहे नईमुल के बेटे उवेश की नींद खुल गई. उसने इस सारी घटना को देख लिया था. इसलिए मोरेज ने उवेश के गले पर भी चाकू से वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया. उसके बाद घर में रखी अलमारी को खंगाला तो उसमें रखे 15 हजार और मोबाइल लेकर वह फरार हो गया. पुलिस ने आरोपी से 12 हजार रुपये और वारदात के दौरान पहने गए कपड़े भी बरामद कर लिए हैं. 

इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम देने के बाद मृतकों के पोस्टमार्टम से लेकर उनके अंतिम संस्कार तक वह साथ ही रहा. ताकि किसी को कोई शक ना हो लेकिन पुलिस ने इस ब्लाइंड दोहरे हत्याकांड का आखिर खुलासा कर ही दिया. आरोपी को सलाखों के पीछे भेजकर वैधानिक कार्रवाई की जा रही है.

इसे भी पढ़ेंः
UP Election 2022: यूपी चुनाव के लिए BJP ने चार लेयर में बनाई ‘टीम सुपर-30’, जानें- किसे मिली जगह

West Bengal Bypolls: भवानीपुर में हुए हंगामे पर EC ने राज्य सरकार से मांगी रिपोर्ट, बीजेपी बोली- रद्द हो चुनाव

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button