States

‘बुलडोजर’ वर्सेस ‘एलएमजी’ पर सियासत गर्म, मंत्री बोले- बे सिर-पैर की बात करते हैं सपा नेता

Kaushal Kishore Agra Visit: अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने कल योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर निशाना साधते हुए कहा था कि इन्हें अपना चुनाव चिन्ह बुलडोजर (Bulldozer) रखना चाहिए. इसी क्रम में बीजेपी के राज्यसभा सांसद बृजलाल (MP Brijlal) ने आज हमला बोला. उनका कहना है कि अखिलेश यादव को समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) का चुनाव चिन्ह एलएमजी रख लेना चाहिए क्योंकि कृष्णानंद राय (Krishnanand Rai) की हत्या के लिए मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari) ने एलएमजी (LMG) ही मंगाई थी. जो साल 2004 में एसटीएफ (STF) ने बरामद की थी. आपके पिता ने मुख्यमंत्री रहते हुए मुख्तार को पोटा (POTA) कानून से बचा लिया था.

पहले से ज्यादा सीटें जीतेगी बीजेपी 
आगरा पहुंचे केंद्रीय मंत्री कौशल किशोर ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि किसका क्या चुनाव चिन्ह होना चाहिए, ये निर्वाचन आयोग तय करता है. अखिलेश यादव बे सिर-पैर की बात कर रहे हैं. मुद्दों से उनका कोई लेना-देना नहीं है. अखिलेश यादव का 403 में से 400 सीटें जीतने का दावा करने पर उन्होंने तंज कसा और कहा कि जो तीन सीटें बची हैं अखिलेश यादव बता दें कि वो किनको मिल रही हैं. 2017 में जितनी बीजेपी की सीटें आईं हैं इस बार पार्टी उससे एक सीट ज्यादा ही जीतेगी. 

बीजेपी जनता की पहली पसंद है
कौशल किशोर ने पश्चिमी उत्तर प्रदेश में लगातार किसान आंदोलन के प्रभाव पर कहा कि किसान पूरी तरह से बीजेपी के साथ हैं. उन्होंने कहा कि राकेश टिकैत खुद एक इंटरव्यू में कह चुके हैं कि वो बिल के खिलाफ हैं, बीजेपी के नहीं और वे खुद अपना वोट भारतीय जनता पार्टी को देंगे. भारतीय जनता पार्टी सामाजिक समरसता पर काम कर रही है और सभी वर्गों को लेकर पार्टी चल रही है इसलिए बीजेपी जनता की पहली पसंद है.

मायावती पर भी साधा निशाना 
कौशल किशोर रावत ने मायावती पर भी हमला बोला. उन्होंने कहा कि हाथी के पैर के नीचे मायावती ने अंबेडकर के मिशन को कुशल दिया है. 60 फीसदी दलित मतदाता बीजेपी को वोट करेगा. भारतीय जनता पार्टी ने सही मायनों में अंबेडकर के मिशन को पूरा किया है. साथ ही ब्राह्मणों को जिस तरह से बीएसपी लुभा रही है उस पर उनका कहना है कि पांच फीसदी भी ब्राह्मणों का वोट बीएसपी को मिल जाए तो बड़ी बात है.  

ये भी पढ़ें: 

Rakesh Tikait in Meerut: शहीद मेजर मयंक विश्नोई के परिवार से मिले राकेश टिकैत, बताया- ओवैसी को क्यों कहा था ‘चचाजान’

Terrorists UP Connection: सपा सांसद बोले- अगर आतंकवादी हैं तो मिले कड़ी सजा, नहीं होना चाहिए ये काम 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button