States

इस बार भी भव्य दीपोत्सव से जगमगाएगी राम नगरी अयोध्या, पीएम मोदी हो सकते हैं शामिल

Deepotsav in Ayodhya: अयोध्या (Ayodhya) में इस बार दीपोत्सव (Deepotsav) बेहद ही खास और भव्य होने जा रहा है. सूत्रों की मानें तो, इस बार का दीपोत्सव 7 से 10 दिन तक मनाया जाएगा. योगी सरकार (UP Government) के गठन के बाद अयोध्या में दीपोत्सव की शुरुआत हुई और हर वर्ष अयोध्या एक नया कीर्तिमान (New Record) दीपोत्सव पर स्थापित कर रही है.

चर्चा में राम नगरी

2022 के चुनावी समर में अब राजनीतिक दलों ने भगवान राम लला का आशीर्वाद लेकर तैयारियां की हैं, या यूं कहें कि शुरुआत की है. बीते दिनों बीएसपी के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन ब्राह्मण सम्मेलन की शुरुआत अयोध्या में रामलला के दर्शन के बाद से हुई है. कुंडा के राजा रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने भी अपनी राजनीतिक दल के गठन के बाद राम लला का आशीर्वाद लेकर प्रदेश की राजनीति में अपना कदम रखा. ऐसे में पिछले सरकारों में उपेक्षित रही राम की नगरी योगी सरकार के गठन के बाद से ही लगातार विकास के लिहाज से प्रगति पर है. 

अयोध्या में योगी सरकार ने कई योजनाएं चलाई जो लगभग लगभग पूरी हो गई हैं. यह पूरी होने वाली है. ऐसे में 2022 के चुनाव के पहले पड़ने वाले दीपोत्सव पर सूत्रों के हवाले से खबर है कि, प्रधानमंत्री शामिल हो सकते हैं, तो जाहिर सी बात है कि प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर के जो सरकारी तंत्र है. उन्होंने तैयारियां अभी से शुरू कर दी है और 2022 के चुनाव को देखते हुए एक बार बीजेपी भी विकास और राम मंदिर के रास्ते विधानसभा का मार्ग तय करने की तैयारी में है.

भव्य दीपोत्सव मनाया जाएगा 

प्रधानमंत्री का अयोध्या आगमन के मद्देनजर दीपोत्सव भी बेहद भव्य मनाया जाएगा. 7.51लाख से ज्यादा दीपक जलाकर अपना ही कीर्तिमान तोड़ने का प्रयास करेगा, तो प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर सरकारी तंत्र ने अभी से ताकत लगाना शुरू कर दी है. अयोध्या विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह ने बताया कि, इस बार भी दीपोत्सव के लिए पर्यटन विभाग के द्वारा टेंडर जारी किया गया है. इनोवेशन के माध्यम से लोगों को मॉडल और कार्यक्रम की रूपरेखा में अपना सुझाव देने के लिए कहा गया है. इस बार के दीपोत्सव में नया कुछ करने के लिए बॉलीवुड के कई नामचीन व्यक्तियों से चर्चा की जा रही है. साथ ही बाहुबली फिल्म के सेट बनाने वाले कुछ कुछ होता है और लगान जैसी फिल्मों के सेट बनाने वाले के माध्यम से अयोध्या में दीपोत्सव को नया रंग दिया जा सके इसके लिए प्रयास किया जा रहा है.

वैश्विक स्तर पर किया जाएगा प्रचार 

नया कीर्तिमान स्थापित करने का प्रयास जिला प्रशासन और अवध विश्वविद्यालय के सहयोग से किया जाएगा. सुनम ऑटोग्राफी लुक एंड फील डिजाइन रामलीला का प्रसंग जो हर बार होता रहा है इन चीजों को वैश्विक स्तर पर ले जाने का प्रयास होगा. उच्च स्तर की रामलीला का आयोजन किया जाएगा जिससे ग्लोबल को अट्रैक्ट कर सकें.

विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष विशाल सिंह ने बताया कि, अभी तक साफ-साफ ये तय नहीं हुआ कि कितने दिवसीय दीपोत्सव का आयोजन इस बार होगा लेकिन, 7 से 10 दिन तक दीपोत्सव का आयोजन हो सकता है. हालांकि अभी तक प्रधानमंत्री के अयोध्या आगमन की कोई भी जानकारी मेरे स्तर पर नहीं है. इसकी जानकारी पीएमओ या शासन स्तर से ही कोई जानकारी मिल सकती है. प्रधानमंत्री के आमंत्रण का कार्य मुख्यमंत्री कार्यालय से ही होता है.

ये भी पढ़ें.

यूपी पुलिस के सुरक्षा विभाग को अंतरराष्ट्रीय मानकों के लिए मिला ISO प्रमाणपत्र

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button