States

सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी मिलने पर कर्नल अजय कोठियाल ने खिलाइ मिठाई, जानें- रिश्वत वाली बात

Colonel Ajay Kothiyal Security Guard Job: उत्तराखंड (Uttarakhand) में आउटसोर्स एजेंसी (Outsource Agency) के माध्यम से पैसे लेकर नौकरी (Job) लगाने का मामला सामने आया है. मामला भी किसी और का नहीं बल्कि आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) के सीएम कैंडिडेट कर्नल अजय कोठियाल (Colonel Ajay Kothiyal) से जुड़ा हुआ है. आरोप है कि महिला एवं बाल विकास विभाग (Women and Child Development Department) में आउटसोर्स एजेंसी के माध्यम से नौकरी लगाने का काम चल रहा है. उसी कंपनी से कर्नल अजय कोठियाल ने नौकरी के लिए आवेदन किया. 

इस शर्त पर दी गई नौकरी 
आवेदन के बाद कर्नल कोठियाल को सिक्योरिटी की नौकरी इस शर्त पर दी गई कि उन्हें एजेंसी को रिश्वत के तौर पर 25 हजार रुपए देने होंगे. कोठियाल ने सच्चाई जानने के लिए संबंधित एजेंसी को 25 हजार रुपए दे दिए. उसके बाद एजेंसी की तरफ से उनको सिक्योरिटी गार्ड के तौर पर नौकरी का ज्वाइनिंग लेटर भी मिल गया. कर्नल अजय कोठियाल को सिक्योरिटी गार्ड की नौकरी चंपावत में 8475 रुपए प्रति माह की तनख्वाह पर दी गई है.

नौकरी लगने पर कर्नल कोठियाल ने खिलाई मिठाई
अपना ज्वाइनिंग लेटर लेकर कर्नल कोठियाल सचिवालय पहुंच गए. कोठियाल को इसमें अपनी राजनीति भी चमकानी थी इसलिए वो हाथ में टिफिन और मिठाई का डिब्बा लेकर सचिवालय पहुंचे और वहां के तमाम कर्मचारियों को नौकरी लगने पर मिठाई भी खिलाई. काफी देर सचिवालय के बाहर कोठियाल के समर्थकों ने हंगामा भी किया और सरकार के खिलाफ नारेबाजी भी की. कोठियाल का मकसद ये था कि नौकरी दिलाने के नाम पर एजेंसी की पोल खोली जाए. 

अन्य कर्मचारियों ने भी लगाए आरोप
वहीं, आउट सोर्स के माध्यम से लगे हुए अन्य कर्मचारियों ने भी आरोप लगाए हैं. उनका कहना है कि उनसे भी सिक्योरिटी के तौर पर पैसे मांगे जा रहे हैं. कर्नल अजय कोठियाल अपना ज्वाइनिंग लेटर लेकर महिला एवं बाल विकास विभाग के अपर सचिव से भी मिलने पहुंचे. उन्होंने अपर सचिव को सभी कागज दिखाए. महिला एवं बाल विकास विभाग के अपर सचिव ने कहा कि मामला अभी मेरे संज्ञान में आया है, इसकी पूरी जांच की जाएगी.

ये भी पढ़ें:   

Badrinath Highway Landslide: बद्रीनाथ हाईवे पर हुआ जबरदस्त भूस्खलन, सड़क पर आया हजारों टन मलबा

यूपी चुनाव को लेकर एक्शन में बीजेपी, मुस्लिम वोटर्स और प्रवासियों के लिए बनाई खास रणनीति

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button