States

संध्या साहनी पढ़ाई के बाद करना चाहती है ये काम, राहुल गांधी, सोनू सूद कर चुके हैं तारीफ

Gorakhpur Sandhya Sahni: यूपी के गोरखपुर जिले में उफनाती राप्‍ती नदी में नाव खेकर स्‍कूल जा रही बच्ची की तस्वीरें सोशल मीडिया में वायरल हुई थी. बच्ची के हौसले को देखकर सोशल मीडिया में उसकी खूब तारीफ हुई. यहां तक कि कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Rahul Gandhi) भी खुद को बच्ची की तारीफ करने से नहीं रोक पाए. बाढ़ के बीच नाव से अकेले स्कूल जाने वाली बच्ची कई जिंदगियों के लिए प्रेरणा है. बच्ची की तस्वीर वायरल होने के बाद उसके बारे में सब जानना चाह रहे थे.

रेलवे में नौकरी करना चाहती है संध्या
एबीपी की टीम ने बच्ची का पता लगा लिया है. बाढ़ग्रस्‍त क्षेत्र में एबीपी की टीम नाव से उसके घर पहुंचे और जोश और जज्‍बे से भरी इस बच्‍ची और उसके परिवार से हमने खुद जाना कि बाढ़ में डूबे घर में वो किस तरह से उम्‍मीद की लौ जला रहे हैं. बच्ची का नाम संध्या साहनी है. 15 वर्षीय संध्या गोरखपुर के बहरापुर दक्षिणी की रहने वाली है. संध्‍या ने बाढ़ग्रस्‍त होने और कोरोना के डर से पढ़ाई से समझौता नहीं किया. वो पढ़-लिखकर रेलवे में नौकरी करना चाहती हैं.

राहुल गांधी ने किया घर आने का वादा
संध्‍या शहर के बैंकरोड के अयोध्‍या दास राजकीय कन्‍या इंटर कालेज में कक्षा 11वीं की छात्रा है. संध्‍या चाहती हैं कि उनके वहां पर बांध बना दिया जाए, तो उनके साथ कई बच्चियों को बाढ़ की वजह से स्‍कूल नहीं छोड़ना पड़ेगा. राहुल गांधी का फोन आने और घर आने का वादा करने पर वो काफी खुश है. वो कहती है कि राहुल गांधी यहां आएं और देखें कि वो किस हाल में रह रही है.

UP: 15 वर्षीय संध्या साहनी पढ़ाई के बाद करना चाहती है ये काम, राहुल गांधी, सोनू सूद कर चुके हैं तारीफ

तीन बेटों में इकलौती बेटी संध्‍या के पिता दिलीप साहनी बताते हैं कि मां गीता के साथ उसके तीन भाई भी उसका हौसला बढ़ाते हैं. संध्‍या के पिता दिलीप साहनी पढ़े-लिखे नहीं हैं. वे कारपेंटर हैं. बाढ़ग्रस्‍त होने की वजह से उनके घर की हालत बुरी है. सारा सामान छज्‍जे पर टिका है. काम धंधा भी पूरी तरह से चौपट है. हालांकि, संध्या के पिता उसे पढ़ा-लिखाकर कुछ बनाना चाहते हैं. 

संध्‍या की मां गीता साहनी भी चाहती हैं कि संध्‍या अच्‍छे से पढ़-लिखकर अपना सपना पूरा करे. संध्या की मां बताती हैं कि वो अपने बेटों को पढ़ा-लिखा नहीं पा रही हैं, लेकिन उनकी इकलौती बेटी संध्‍या पढ़ना चाहती है. वो नाव खेकर स्‍कूल जाती है. वे कहती हैं कि उन्‍हें बेटी पर गर्व है. वो पढ़-लिख रही है और जरूर कुछ बन जाएगी. सरकार के साथ राहुल गांधी और सोनू सूद भी सम्‍मान दे रहे हैं, उन्‍हें काफी खुशी हो रही है.

ये भी पढ़ें:

Muzaffarnagar Mahapanchayat: किसानों की महापंचायत के बहाने मायावती का निशाना, बीजेपी-सपा समेत सबको लपेटा

अखिलेश यादव का दावा- बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंकेगी यूपी की जनता, बंगाल को लेकर कही ये बात

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button