States

नया कीर्तिमान रचने की तैयारियों में जुट गया है नेहरू पर्वतारोहण संस्थान, जानें- क्या है खास 

Nehru Institute of Mountaineering: नेहरू पर्वतारोहण संस्थान उत्तरकाशी (Uttarkashi) वर्षों से पर्वतारोहण (Mountaineering) और साहसिक खेलों में नए-नए प्रयोग कर कई कीर्तिमान हासिल कर चुका है. निम (Nehru Institute of Mountaineering) देश को कई ख्याति प्राप्त पर्वतारोही दे चुका है, तो वहीं अब नेहरू पर्वतारोहण संस्थान एक नया कीर्तिमान रचने की तैयारियों में जुट गया है. निम में देश की पहली इंडोर स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग वाल (Indoor Sports Climbing Wall) (दीवार) बनकर तैयार हो चुकी है. प्रथम चरण में नार्थ जोन के तीन दिवसीय प्रशिक्षण में कई स्पोर्ट्स क्लाइंबर भाग ले चुके हैं.

ओलंपिक खेलों में लेंगे हिस्सा 
बता दें कि, इस वर्ष से स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग को ओलपिंक खेलों में जगह मिल चुकी है. जिसको देखते हुए अब निम ने स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग के क्षेत्र में ओलंपिक के लिए खिलाड़ी तैयार करना शुरू कर दिया है. निम के अधिकारियों का कहना है कि अगले ओलंपिक खेलों में संस्थान के खिलाड़ी भी प्रतिभाग करेंगे.  

स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग को ओलंपिक खेलों में मिली जगह 
नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग इंस्ट्रक्टर (प्रशिक्षक) सौरव रौतेला ने बताया कि निम में देश की पहली इंडोर स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग वाल तैयार हो गई है. वाल इंटरनेशल फेडरेशन ऑफ स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग के मानकों के अनुरूप 15 मीटर ऊंची है. साथ ही इस वर्ष से स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग को ओलंपिक खेलों में जगह मिली है, तो उसे देखते हुए इसका महत्व बहुत ज्यादा है. साउथ जोन में रॉक क्लाइम्बिंग सुविधाओं के साथ बहुत पहले शुरू हो चुका था लेकिन देश के अन्य भागों के लिए अब ये सुविधा निम में शुरू हो चुकी है. इसको देखते हुए नार्थ जोन के खिलाड़ियों के लिए प्रथम चरण का प्रशिक्षण शिविर का आयोजन हो चुका है. उम्मीद है कि ओलंपिक को देखते हुए निम में स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग के लिए ज्यादा से ज्यादा खिलाडी तैयार किए जाएंगे, जो देश के लिए भविष्य में मेडल जीत सकेंगे.

युवाओं की रुचि बढ़ी है
प्रशिक्षक सौरव रौतेला ने बताया कि स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग में तीन प्रतियोगिताएं होती हैं. जिसमे लीड, बोल्डरिंग और स्पीड क्लाइम्बिंग शामिल हैं. इन प्रतियोगिताओं के लिए 2 दीवारें तैयार की गई हैं. निम प्रधानाचार्य कर्नल अमित बिष्ट का कहना है कि स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग के ओलंपिक में शामिल होने के बाद युवाओं की रुचि इसमें बढ़ी है. युवाओं को इस खेल में ओलंपिक के लिए निम में तैयार किया जाएगा. साथ ही ये युवाओं के भविष्य और रोजगार के लिए एक नया आयाम होगा.

खिलाड़ियों के लिए है नया आयाम
निम में स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग का प्रशिक्षण ले रही जम्मू की शिवानी चाड़क का कहना है कि निम में स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग के लिए जो नया प्लेटफॉर्म तैयार किया गया है. ये देश के खिलाड़ियों के लिए नया आयाम होगा. शिवानी ने बताया कि वो खुद स्पोर्ट्स क्लाइम्बिंग में एशियाई स्तर पर मेडल जीत चुकी हैं और अब निम ने उन्हें और अन्य खिलाड़ियों को ओलंपिक की तैयारियों के लिए एक सार्थक प्लेटफॉर्म दिया है.  

ये भी पढ़ें: 

Kisan Mahapanchayat: किसान महापंचायत के लिए बागपत में हुई किसानों की पंचायत, कहा- हर फैसले का करेंगे समर्थन

Sambhal News: सांसद शफीकुर्रहमान बर्क ने आखिर क्यों कहा-मैं नींव का पत्थर हूं, अगर हटा तो इमारत गिर जाएगी

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button