States

आगरा में शराब माफिया पर पुलिस का शिकंजा, IG नवीन अरोरा ने दिए सख्त कार्रवाई के निर्देश

Agra News: जहरीली शराब से 17 मौतों के बाद आगरा रेंज आईजी नवीन अरोरा ने कई सारे सख्त कदम उठाए हैं. जिससे जहरीली शराब बेचने वाले माफिया को लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ करने से रोका जा सके. इसी क्रम में IG रेंज आगरा नवीन अरोरा ने चारों जिलों की पुलिस को इन शराब माफियाओं पर कार्रवाई के लिए एक ब्लूप्रिंट तैयार कर तमाम दिशा निर्देश जारी किए हैं. जिसके पायलट प्रोजेक्ट की शुरुआत आगरा से की है. इसमें एसपी पूर्वी को नोडल अधिकारी बनाया गया है.

निर्देशों के क्रम में शराब तस्करी से जुड़े लोगों का बीते कई सालों का डाटा खंगाला जा रहा है. साथ ही यह जानकारी भी की जा रही है ठेकों के अनुज्ञापी और सेल्समैन की पिछले सालों में आमदनी कितने गुना बढ़ी है. साथ ही उनकी चल और अचल संपत्ति की भी जांच की जा रही है, जो उन्होंने शराब में मिलावट करके काली कमाई की है.

रेंज में शराब माफियाओं पर किस तरह से प्रभावी कार्रवाई हो, इसकी शुरुआत आगरा से की गई है. इसमें 10 साल पुराने मुकदमो को खंगाला जा रहा है और अब तक आगरा में शराब माफियाओं पर क्या कार्रवाई हुई है, कितने तस्कर गिरफ्तार हुए हैं और कितने लोग अभी भी फरार चल रहे हैं, इस पर भी पूरी समीक्षा की जा रही है.

IG रेंज आगरा के मुताबिक शराब तस्करी से जुड़ी हुई पेंडिंग विवेचना खत्म करने के निर्देश दिए गए हैं. माफिया जो लगातार शराब से जुड़ी हुई अनैतिक गतिविधियों में जुड़े हुए हैं और उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज है लेकिन पकड़ से बाहर हैं ऐसे अपराधियों के खिलाफ इनाम घोषित किया जा रहा है.

पुराने मुकदमों से जुड़े शराब माफियाओं को गैंगस्टर एक्ट में शामिल करने के निर्देश दिए हैं ताकि संपत्ति जब्तीकरण के जरिए इन माफियाओं की आर्थिक कमर को तोड़ा जा सके और जो अभी हाल ही में नए शराब तस्कर पुलिस की गिरफ्त में आए हैं, उनके लिए नए गैंग को रजिस्टर किया जा रहा है ताकि उन्हें शराब माफिया घोषित किया जा सके.

आईजी रेंज आगरा के मुताबिक शराब से जुड़े ऐसे माफिया जिनके द्वारा बेची गई शराब से अपमिश्रित थी और एफएसएल रिपोर्ट में इस बात की तस्दीक हुई है कि उसमें हानिकारक तत्व मौजूद था और उसी शराब से ही लोगों की जान गई है, उनके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कठोर कार्रवाई की जाएगी.

इसके साथ ही हरियाणा और राजस्थान की शराब जिसे यहां अपमिश्रित करके बेचा जा रहा है साथ ही हरियाणा की सस्ती शराब को यहां उसका क्यूआर कोड चेंज करके या कुछ ऐसी जुगाड़ बैठ कर बेचा जा रहा है आसानी से क्यू आर कोड भी स्कैन भी हो रहा है उस पर भी आगरा पुलिस ने अपनी नजरें गड़ा दी हैं. साथ ही जिन वाहनों के जरिए शराब की अनैतिक गतिविधियां हो रही हैं. उनको आईडेंटिफाई करने उनको सीज करने के रेंज IG नवीन अरोरा ने निर्देश दिए हैं. इसको लेकर पुलिस आबकारी विभाग से समन्वय स्थापित किए हुए हैं और कई जगह आगरा पुलिस और आबकारी विभाग की संयुक्त टीम रेड कर रही हैं.

आगरा शराब कांड में अब तक ताजगंज, डौकी, शमशाबाद और इरादत नगर थाना क्षेत्रों में 17 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है और अब तक 9 मुकदमे भी दर्ज किए जा चुके हैं. जिसमें पुलिस ने कई सारे नामजद और अन्य लोगों को गिरफ्तार किया है. जिसमें अभी हेमंत जो इनामी बदमाश है पुलिस को उसकी तलाश है. जिस पर एसएसपी आगरा ने 25 हजार का इनाम घोषित किया है. इसके साथ ही सचिन और मनोज नाम के दो अन्य शराब माफियाओं को भी पुलिस सरगर्मी से ढूंढ रही है.

इसे भी पढ़ेंः

Afghanistan Crisis: अफगानिस्तान का सुप्रीम लीडर बनने जा रहे अखुन्दज़ादा को पाकिस्तान ने सौंपी TTP के आतंकियों की लिस्ट

Afghanistan Crisis: रूस ने कहा- अफगानिस्तान में जल्द से जल्द लोकतंत्र और शांति की बहाली होनी चाहिए

यह भी देखेंः

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button