States

बिहारः नियोजित संगीत शिक्षक को पहली बार मिलेगा राज्य पुरस्कार, डॉ. शिव नारायण का नाम हुआ शामिल


<p style="text-align: justify;"><strong>मधुबनी: </strong>पूरे बिहार में नियोजित संगीत शिक्षक को पहली बार राज्य पुरस्कार मिलने जा रहा है. पांच सितंबर को यानी शिक्षक दिवस के दिन मधुबनी के डॉ. शिव नारायण मिश्र को राजकीय शिक्षक पुरस्कार दिया जाएगा. जिला शिक्षा पदाधिकारी, वाटसन उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापक अजीत कुमार साहू, शिक्षक और कलाकारों ने इसके लिए शिव नारायण मिश्र को अग्रिम बधाई दी है. &nbsp;</p>
<p style="text-align: justify;">डॉक्टर शिव नारायण मिश्र 2016 से सूरज नारायण सिंह देवनारायण गुड मेहता वाटसन प्लस टू विद्यालय मधुबनी में उच्च माध्यमिक संगीत शिक्षक पद पर कार्य कर रहे हैं. इनका जन्म दो जनवरी 1975 को संगीत परिवार, मधुबनी संगीत घराना में हुआ है. इनके पिता पंडित रमाकांत मिश्रा शिवगंगा बालिका उच्च विद्यालय मधुबनी से अवकाश प्राप्त शिक्षक हैं. माता स्वर्गीय राधा देवी को संगीत की अच्छी जानकारी थी. संगीत की प्रारंभिक शिक्षा मधुबनी से प्राप्त करने के बाद डॉ. शिव नारायण मिश्र ने संगीत तबला की उच्चस्तरीय शिक्षा बनारस घराना के कलाकार अपने मामा पंडित रंगनाथ मिश्र से प्राप्त की है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर पर कई आलेख प्रकाशित</strong></p>
<p style="text-align: justify;">डॉ. शिव नारायण ने ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय, दरभंगा से डॉक्टर लावण्य कीर्ति सिंह काव्या के निर्देशन में संगीत से पीएचडी की उपाधि प्राप्त की है. इन्होंने (विभिन्न संगीत परंपराओं के बाद एवं वादक) पुस्तक लिखी है. साथ ही मधुबनी स्मारिका, मधुबनी दर्पण, शोध पत्रिका, भैरवी, नेशनल सेमिनार, नाद रंग, संगीत चिंतन, सहित राज्य एवं राष्ट्रीय स्तर के विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में कई आलेख प्रकाशित हुए हैं. नेशनल सेमिनार राष्ट्रीय संगीत सम्मेलन, राष्ट्रीय संगोष्ठी इत्यादि में शोध पत्र प्रस्तुत कर कई पुरस्कार प्राप्त कर चुके हैं. डॉक्टर शिव नारायण मिश्र वाटसन उच्च विद्यालय में कार्य करते हुए विद्यालय, प्रमंडल एवं राज्य स्तरीय कई कार्यक्रमों में वाटसन उच्च विद्यालय के छात्र छात्राओं को गीत, संगीत, नाटक कार्यक्रम का निर्देशन करते हुए बच्चों की प्रस्तुति कराने में सहयोग कर चुके हैं.</p>
<p style="text-align: justify;">वहीं, विद्यालय में बच्चों का नामांकन बढ़ाने, ड्रॉपआउट को कम करने के लिए विशेष नामांकन अभियान, प्रवेश उत्सव, शिक्षा का अधिकार यात्रा के आयोजन में तथा कोविड-19 टीकाकरण को सफल बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है. विद्यालय की बुनियादी ढांचे और बच्चों के सामाजिक जागरूकता जल जीवन हरियाली, नशा मुक्ति, बाल विवाह, दहेज प्रथा उन्मूलन के पक्ष में आयोजित राज्यव्यापी मानव शृंखला निर्माण के आयोजन एवं वातावरण निर्माण में कार्य करने वाले कला जत्था दल को प्रशिक्षण भी दिया है.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>&nbsp;</strong><strong>अब तक प्राप्त कर चुके हैं कई पुरस्कार</strong></p>
<p style="text-align: justify;">डॉक्टर शिव नारायण मिश्र छात्र जीवन से ही कला संस्कृति, संगीत एवं समाज सेवा के क्षेत्र में कार्य करते आ रहे हैं. डॉ. मिश्रा स्वयंसेवी संगठन जन जागरण युवा समिति, मधुबनी और जागरण संगीत कला महाविद्यालय मधुबनी के संस्थापक हैं. इनके माध्यम से विगत कई वर्षों से निर्धन छात्र-छात्राओं को संगीत का प्रशिक्षण दिया जाता रहा है. साथ ही उन्हें रोजगार के अवसर भी प्राप्त किए जा रहे हैं. इनको नेहरू युवा केंद्र मधुबनी द्वारा समाज सेवा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए जिला युवा पुरस्कार प्रदान किया जा चुका है.</p>
<p style="text-align: justify;">छात्र जीवन से अभी तक वाद यंत्र प्रतियोगिता, अंतर महाविद्यालय युवा महोत्सव, जिला स्तरीय तबला प्रतियोगिता, राष्ट्रीय एकता एवं अंतर राज्य युवा शिविर, स्वतंत्रता दिवस समारोह, गणतंत्र दिवस समारोह, स्वर्ण जयंती समारोह, प्रतिभा खोज प्रतियोगिता, विद्यापति स्मृति समारोह, शुक्र गुलजार सनी बाहर कार्यक्रम, सोनपुर मेला, अखिल भारतीय संगीत सम्मेलन इत्यादि में सहभागिता के लिए कई पुरस्कार मेडल एवं प्रमाण पत्र प्रदान किए गए हैं. शतरंज खेल, फोटोग्राफी, मंच-संचालन, लेखन में विशेष अभिरुचि है. इन सभी क्षेत्रों में भी उन्हें पुरस्कार व प्रमाणपत्र मिले हैं.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>पुरस्कार के लिए चयन होने पर दिया धन्यवाद</strong></p>
<p style="text-align: justify;">डॉक्टर शिव नारायण मिश्र ने पुरस्कार के लिए चयन होने पर कहा कि इसका श्रेय जिला शिक्षा पदाधिकारी, मधुबनी एवं विद्यालय के प्रधानाध्यापक अजीत कुमार साहू तथा सभी शिक्षकों और जानने वाले को जाता है. पूरे बिहार में नियोजित संगीत शिक्षक को पहली बार राज्य पुरस्कार मिलेगा जिससे पूरे संगीत के प्रति लोगों का आकर्षण बढ़ेगा. जब से लोगों को पता चला है तबसे मुझे पूरे बिहार के संगीत शिक्षक और कलाकार लगातार बधाई दे रहे हैं. सभी का धन्यवाद करता हूं.</p>
<p style="text-align: justify;"><strong>यह भी पढ़ें-&nbsp;</strong></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/states/bihar/bihar-crime-meat-seller-lynched-in-bhojpur-fear-of-incident-in-land-dispute-ann-1961980"><strong>Bihar Crime: भोजपुर में मीट विक्रेता की पीट-पीटकर हत्या, जमीन विवाद में घटना की आशंका</strong></a></p>
<p style="text-align: justify;"><a href="https://www.abplive.com/states/bihar/bihar-politics-jagdanand-singh-compares-rss-to-taliban-says-these-people-beat-up-others-ann-1961966"><strong>Bihar Politics: जगदानंद सिंह ने तालिबान से की RSS की तुलना, कहा- ये लोग दूसरों की करते हैं पिटाई</strong></a></p>

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button