States

योगी सरकार का गरीबों को मुफ्त मच्छरदानी देने का ऐलान

UP Election: मच्छरों से पैदा होने वाली जानलेवा बीमारी डेंगू इन दिनों यूपी में एक बार फिर तेजी से पांव पसारने लगी है. चुनावी बेला में मच्छरों के जहरीले डंक सियासी मुद्दा बनकर सरकार की फजीहत न करा बैठे, इसके लिए योगी सरकार एक ऐसा सियासी तीर चलाने जा रही है, जो आने वाले दिनों में एक साथ कई निशाने साध सकता है. योगी सरकार ने इस बार बीपीएल कार्ड धारक गरीबों को डेंगू की खतरनाक बीमारी से बचाने के लिए उन्हें मुफ्त मच्छरदानी दिए जाने की तैयारी में हैं.

प्रयागराज में तो तीन दिन बाद शुरू होने वाले इस खास अभियान के लिए सात हजार मच्छरदानियों की पहली खेप भी सीएमओ ऑफिस पहुंच गई है. वहीं डेंगू के मच्छरों और बचाव के लिए बांटी जाने वाली मच्छरदानियों को लेकर राजनीतिक दलों में सियासी घमासान जरूर छिड़ गया है. कहा जा सकता है कि चुनावी मंचों पर ये मच्छर और मच्छरदानियां सियासी बिसात पर मोहरे की तरह इस्तेमाल होकर पार्टियों का खेल बना और बिगाड़ सकती हैं.

मरीजों की संख्या बढ़ी

प्रयागराज में डेंगू का डंक मारने वाले मच्छर अब लोगों की जिंदगी और सेहत पर खतरा बनकर मंडराने लगे हैं. मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ती जा रही हैं. अब तक तकरीबन दो दर्जन लोग डेंगू की चपेट में आ चुके हैं. डेंगू की बीमारी कहीं हाहाकार न मचा डाले, इसके लिए योगी सरकार ने अब बीपीएल कार्ड धारकों को मुफ्त में मच्छरदानियां बांटने का फैसला किया है. ये मच्छरदानियां अकेले प्रयागराज ही नहीं बल्कि सूबे के तमाम जिलों में बांटी जाएंगी. मच्छरदानियां बांटने का काम स्वास्थ्य महकमे के मलेरिया अधिकारी के जरिए किया जाएगा. प्रयागराज में इसकी शुरुआत दो या तीन सितंबर से हो सकता है.

चरणबद्ध तरीके से बांटी जाएगी

प्रयागराज के सीएमओ डॉ. नानक शरण के मुताबिक सरकार की तरफ से आई मच्छरदानियों को चरणबद्ध तरीके से जल्द ही बांटने का काम शुरू किया जाएगा. इन मच्छरदानियों को जन प्रतिनिधियों के माध्यम से बांटा जाएगा. यानी इशारा साफ है कि सरकारी मच्छरदानियों के जरिये बीजेपी का मंच सजाया जाएगा. इतना ही नहीं, मच्छरदानियों को सियासी मुद्दा भी बनाया जाएगा और साथ ही इसके नाम पर वोट भी मांगे जाएंगे. सीएमओ डॉ. नानक शरण का कहना है कि जल्द ही दूसरी और आगे की खेप भी जिले में आ जाएगी. कितनी मच्छरदानियां बांटी जाएंगी, इसका फैसला शासन को करना है. उनके मुताबिक डेंगू से बचाव ही उससे बचने का इकलौता हथियार है. ऐसे में गरीबों के लिए यह मच्छरदानियां काफी मददगार साबित होंगी.

पक्ष-विपक्ष का निशाना

वहीं भारतीय जनता पार्टी जहां एक तरफ इसे बड़ी उपलब्धि बता रही है तो वहीं विपक्ष इन मच्छरदानियों के बहाने सरकार पर निशाना साधने लगा है. बीजेपी नेता पवन श्रीवास्तव का कहना है कि सरकार गरीबों का ख्याल रख रही है और विपक्ष इस पर भी घड़ियाली आंसू बहा रहा है. दूसरी तरफ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व राज्यसभा सांसद प्रमोद तिवारी ने कहा है कि डेंगू और दूसरी बीमारियों की रोकथाम में नाकाम सरकार अब झुनझुना बजाकर अपनी कमियों पर पर्दा डालने की कोशिश में है.

यह भी पढ़ें:
Yogi Adityanath’s visit to Firozabad: फिरोजाबाद में डेंगू प्रभावित बच्‍चों का हाल जानने अस्पताल पहुंचे सीएम योगी आदित्यनाथ, अधिकारियों को दिये ये निर्देश
Janmashtami 2021: मथुरा में सीएम योगी बोले- पहले हिन्दुओं के त्योहारों पर बंदिशें लगाई जाती थीं लेकिन अब कोई बंदिश नहीं है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button