Crime

फरीदाबाद में युवती की हत्या को लेकर सोशल मीडिया पर दावा, कत्ल से पहले दुष्कर्म किए जाने का आरोप

Murder Case: फरीदाबाद के सूरजकुंड इलाके में दिल्ली सिविल डिफेंस में काम करने वाली युवती की हत्या के मामले में सोशल मीडिया पर लगातार आरोप लगाया जा रहा है कि युवती के साथ हत्या से पहले दुष्कर्म भी किया गया था. युवती के परिजन भी आरोप लगा रहे हैं कि उसके साथ दुष्कर्म भी किया गया है और इस मामले में 1 से ज्यादा लोग शामिल हो सकते हैं. हालांकि फरीदाबाद पुलिस सिर्फ एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर इस पूरे मामले को सुलझाने का दावा कर रही है. वहीं फरीदाबाद पुलिस ने ये कहा है कि युवती की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है, जिससे कहा जा सके कि युवती के साथ बलात्कार किया गया था.

दिल्ली सिविल डिफेंस में काम करने वाली युवती की हत्या के मामले में युवती के परिजनों का आरोप है कि ये मामला केवल हत्या का नहीं, बल्कि बलात्कार का भी है. हत्या करने से पहले उसके साथ यौनाचार भी किया गया, जिसके बाद बेरहमी से चाकुओं से गोद कर उसकी हत्या कर दी गई. हालांकि युवती के परिजन ऑन कैमरा कुछ भी बात करने से इनकार कर रहे हैं. युवती की मौत से सदमे में आए उसके माता-पिता की तबीयत खराब है और उसके भाई कैमरे के आगे कोई बात नहीं करना चाहते हैं. उनका कहना है कि हमें न्याय चाहिए. इस पूरे मामले में अभी तक एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है जबकि इसमें 1 से ज्यादा लोग शामिल हैं.

क्या है मामला?

बता दें कि 27 अगस्त की सुबह निजामुद्दीन नामक एक व्यक्ति ने कालिंदी कुंज थाने में पहुंचकर यह खुलासा किया था कि उसने फरीदाबाद के सूरजकुंड इलाके में युवती की हत्या करने के बाद शव को झाड़ियों में फेंक दिया था. जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने इस मामले की जानकारी फरीदाबाद पुलिस को दी और फिर फरीदाबाद पुलिस ने युवती के शव को झाड़ियों से बरामद किया. फरीदाबाद के सूरजकुंड पाली रोड पर स्थित झाड़ियों में 27 अगस्त को युवती का शव बरामद किया गया था.

वह युवती दिल्ली सिविल डिफेंस में कार्यरत थी और दिल्ली की रहने वाली थी. इस मामले में खुलासा उस समय हुआ जब सिविल डिफेंस में ही काम करने वाले निजामुद्दीन नामक एक युवक ने दिल्ली के कालिंदी कुंज थाने में जाकर खुलासा किया कि उसने युवती की हत्या करने के बाद शव को सूरजकुंड पाली रोड पर स्थित झाड़ियों में फेंक दिया है. निजामुद्दीन ने पुलिस को यह भी बताया कि उसने 11 जून 2021 को दिल्ली के साकेत कोर्ट में युवती के साथ कोर्ट मैरिज की थी.

शादी के बाद उसे युवती के चरित्र पर शक होने लगा और इसी शक के चलते उसने 26 अगस्त को युवती से बात की और फिर उसे अपने साथ सूरजकुंड ले आया. यहां पर उसे समझाने की कोशिश की और इसी बीच जब दोनों के बीच झगड़ा हुआ तो निजामुद्दीन ने चाकू से वार कर युवती की हत्या कर दी और शव को झाड़ियों में फेंक दिया. युवती के परिजन आरोप लगा रहे हैं कि इस मामले में सिर्फ निजामुद्दीन ही शामिल नहीं है और भी लोग शामिल हैं. ये मामला सिर्फ हत्या का मामला नहीं, युवती के साथ यौनाचार भी किया गया है.

फरीदाबाद के पुलिस कमिश्नर विकास कुमार अरोड़ा ने कहा कि इस मामले में सोशल मीडिया पर ये बातें कही जा रही है कि युवती के साथ यौनाचार किया गया था या बलात्कार किया गया था तो यह गलत है क्योंकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट में ऐसी कोई भी बात सामने नहीं आई है. इसके अलावा अगर हम मेडिकल एविडेंस की बात करें या फिर पोस्टमार्टम रिपोर्ट की तो कहीं पर भी ऐसा कोई तथ्य सामने नहीं आया है. निजामुद्दीन को फरीदाबाद पुलिस ने रिमांड पर लिया है. उससे फिर पूछताछ की जाएगी. अब इस मामले की जांच लोकल पुलिस से लेकर फरीदाबाद क्राइम ब्रांच को सौंप दी गई है.

जनवरी 2020 में हुई थी दोनों की मुलाकात

निजामुद्दीन ने पुलिस को बताया कि पिछले साल जनवरी में उसकी मुलाकात संगम विहार इलाके की रहने वाली युवती से डीएम ऑफिस, लाजपत नगर में हुई थी. युवती का चयन सिविल डिफेंस में हुआ था. उसने युवती का आईकार्ड बनवाने में मदद की थी. बाद में दोनों की दोस्ती हो गई. इस साल यानी 2021 में 11 जून को दोनों ने साकेत कोर्ट में कोर्ट मैरिज कर ली. निजामुद्दीन का कहना है कि शादी के बाद उसे पता चला कि उसकी पत्नी के कुछ अन्य लोगों से रिलेशन है. उसने अपनी पत्नी को सही रास्ते पर लाने की कोशिश की, लेकिन वह कामयाब नहीं हुआ. 26 अगस्त को वह लाजपत नगर से अपनी पत्नी को बाइक पर बैठाकर सूरजकुंड ले गया. वहां पहुंचकर उसने पत्नी से इस मुद्दे पर बात की. उसे समझाया. तभी उसकी पत्नी के साथ कहासुनी हो गई. इसके बाद तैश में आकर उसने पत्नी के ऊपर चाकू से ताबड़तोड़ वार कर दिए. पत्नी ने दम तोड़ दिया, जिसके बाद उसकी लाश को वहीं पास ही झाड़ियाें में खींचकर ठिकाने लगा दिया.

यह भी पढ़ें:
Rape Case: विवाहित महिला शिक्षक ने 14 साल के लड़के का तीन बार किया रेप, गिरफ्तार
दिल्ली: फर्जी कॉल सेंटर के जरिए की जा रही थी ठगी, 8 महिलाओं समेत 14 लोग गिरफ्तार

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button