Business

रिजर्व बैंक की नई रीटेल निवेश स्कीम में निवेश करने पर देना होगा इतना टैक्स

RBI Invest: अब आम भारतीय लोग भी बॉन्ड मार्केट में अपने पैसों को निवेश कर सकेंगे. सरकार ने आरबीआई रिटेल डायरेक्ट स्कीम (RBI direct retail scheme) की शुरूआत कर दी है. इस स्कीम में निवेश करके बॉन्ड मार्केट (Bond Market) में निवेश करने पर आपको FD से भी ज्यादा Interest मिलेगा. जानकारी के लिए बता दें कि जब सरकार को पैसों की जरूरत होती है, उस समय वह बॉन्ड जारी करती है. इन बॉन्ड के जरिए सरकार निवेश बाजार से पैसों को इकट्ठा करती है.

इकट्ठा किए गई रकम को सरकार द्वारा अलग अलग Schemes में लगाया जाता है. बॉन्ड एक प्रकार का ऋण पत्र होता है. इस बॉन्ड में निवेश किए गए पैसों की जिम्मेदारी सरकार की ही होती है. यही वजह है कि इस Investment को सुरक्षित माना जाता है. कई लोग बॉन्ड में अपने पैसों का निवेश एक लंबी अवधि के नजरिए को ध्यान में रखते हुए करते हैं. तमाम बॉन्ड की Maturity अवधि 30 साल की होती है.

ऐसे खुलेगा खाता

नई व्यवस्था के तहत इसमें निवेश करने के लिए खुदरा निवेशकों को RBI के साथ रिटेल डायरेक्ट गिल्ट अकाउंट को खोलना होगा. बॉन्ड को केंद्र और राज्य सरकारें जारी करती हैं. अगर आप इसमें निवेश करने के लिए उत्सुक हैं, तो आपको आरबीआई के पोर्टल के जरिए इसमें अकाउंट खुलवाना होगा. वेरिफिकेशन के बाद आपका अकाउंट चालू हो जाएगा.

इतना लगेगा टैक्स

अगर आप सोच रहे हैं कि इस निवेश में टैक्स नहीं लगेता तो हम आपको बता दें कि बॉन्ड में निवेश करने पर आपको टैक्स बेनिफिट्स नहीं मिलेगा. हालांकि इन बॉन्ड में निवेश करने पर आपका जो ब्याज आएगा, उस पर स्लैब के आधार पर टैक्स देना होगा. खुदरा निवेशकों के लिए ये भी विकल्प रहेगा कि वो मैच्योरिटी से पहले भी इन बॉन्ड को बेच सकेंगे. 

हालांकि सरकारी बॉन्ड में पैसा लगाना काफी सुरक्षित माना जाता है। केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा बॉन्ड को जारी किया जाता है. इस कारण इसमें रिस्क की संभावना काफी कम होती है. 

अगर आप भी लंबी अवधि के लिए अपने पैसों को निवेश करना चाहते हैं, तो आरबीआई रिटेल डायरेक्ट स्कीम काफी अच्छा विकल्प है. इसमें इन्वेस्ट करने पर आपको फिक्स्ड डिपॉजिट से भी ज्यादा इंटरेस्ट रेट मिलेगा.

 

ये भी पढ़ें

Nykaa: आइए जानते हैं कैसे पहली सेल्फमेड अरबपति महिला Nykaa की फाउंडर Falguni Nayar पहुंची इस मुकाम पर?

Cryptocurrency: घर-घर से संसद तक बढ़ी क्रिप्टोकरंसी को लेकर हलचल, अगले हफ्ते संसद की वित्त मामलों की समिति में होगी चर्चा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button