Business

Breaking News: शक्तिकांत कांत दास अगले तीन साल के लिये फिर से बनाये गये आरबीआई गर्वनर

RBI Governor: केंद सरकार (Central Government ) ने आरबीआई ( Reserve Bank Of India ) गवर्नर (Governor) शक्तिकांत दास ( Shaktikanta Das) को तीन साल का और एक्सटेंशन दे दिया है, जिनका कार्यकाल 10 दिसंबर, 2021 को खत्म होने जा रहा था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली  Cabinet की Appointment Commitee ने शक्तिकांत दास को तीन साल के लिये फिर से आरबीआई गर्वनर के पद पर नियुक्त करने का फैसला किया है. इसका अर्थ हुआ कि ये शक्तिकांत दास 10 दिसंबर 2021 के बाद अगले तीन सालों तक आरबीआई पद पर बने रहेंगे.  

वित्तीय मामलों में बड़ा अनुभव

सरकार ने शुक्रवार को शक्तिकांत दास को 10 दिसंबर, 2021 के बाद तीन साल के लिए भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर के रूप में फिर से नियुक्त किया है.  सरकार ने एक बयान में कहा कि नियुक्ति संबंधी कैबिनेट समिति ने तमिलनाडु कैडर के पूर्व भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी दास की फिर से नियुक्ति को मंजूरी दे दी है. उन्होंने 12 दिसंबर, 2018 से प्रभावी आरबीआई के 25वें गवर्नर के रूप में कार्यभार ग्रहण किया था. आरबीआई में अपने कार्यभार से पहले, उन्हें 15 वें वित्त आयोग ( Fifteenth Finance Commision)  के सदस्य के रूप में कार्य किया गया था.  इससे पहले, उन्होंने राजस्व विभाग और आर्थिक मामलों के विभाग, वित्त मंत्रालय में सचिव के रूप में भी कार्य किया. वह सीधे तौर पर 8 केंद्रीय बजट तैयार करने से जुड़े थे. दास ने पिछले 38 वर्षों में शासन में व्यापक अनुभव अर्जित किया है और वित्त, कराधान, उद्योग, बुनियादी ढांचे आदि के क्षेत्रों में राज्य सरकारों में महत्वपूर्ण पदों पर भी रहे हैं. 

उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद बने गर्वनर

2018 में पूर्व आरबीआई गर्वनर उर्जित पटेल के इस्तीफे के बाद शक्तिकांत दाम आरबीआई गर्वनर बनाये गये थे. 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button