Business

म्यूचुअल फंड्स: इन 5 टेक्नोलॉजी फंड्स ने निवेशकों का कराया तगड़ा मुनाफा, इतना दिया रिटर्न

Mutual fund: म्यूचुअल फंड में सेक्टर-क्रेंद्रित फंड के आधार पर भी निवेश किया जाता है. टेक्नोलॉजी फंड (Technology Funds) ने 1 साल, 3 साल और 5 साल की समयावधि में दोहरे अंकों में रिटर्न दिया है.  ये फंड निवेशकों के पैसे को एक सेक्टर यानी टेक्नोलॉजी सेक्टर में निवेश करते हैं. ये फंड इक्विटी-उन्मुख म्यूचुअल फंड हैं जो उच्च जोखिम के साथ उच्च रिटर्न प्रदान करते हैं.

अधिक जोखिम वाले निवेशकों को इन फंडों में निवेश करना चाहिए क्योंकि एक व्यक्ति द्वारा निवेश किए गए सभी पैसे एक ही क्षेत्र में निवेश किए जाते हैं, जो जोखिम भरा हो सकता है. यदि किसी विशेष क्षेत्र को गिरावट का सामना करना पड़ता है, तो एक जोखिम है कि निवेश किया गया सारा पैसा प्रभावित हो सकता है.

सेबी (SEBI) के अनुसार, सेक्टोरल या थीमैटिक फंड ओपन-एंडेड स्कीमें हैं, जो किसी विशेष क्षेत्र के इक्विटी और इक्विटी से संबंधित उपकरणों में कुल संपत्ति का न्यूनतम 80 प्रतिशत निवेश करती हैं. आइए नजर डालते हैं उन शीर्ष पांच फंडों पर, जिन्होंने शानदार रिटर्न दिया है.

ICICI Prudential Technology Fund-Direct Plan

  • 1 साल का रिटर्न: 108.10%
  • 3 साल का रिटर्न: 37.41%
  • 5 साल का रिटर्न: 32.67 %

Aditya Birla Sun Life Digital India Fund-Direct Plan

  • 1 साल का रिटर्न: 96.46 %
  • 3 साल का रिटर्न: 35.13 %
  • 5 साल का रिटर्न: 31.73 %

Tata Digital India Fund-Direct Plan

  • 1 साल का रिटर्न: 109.12  %
  • 3 साल का रिटर्न: 34.44  %
  • 5 साल का रिटर्न:  32.69  %

SBI Technology Opportunities Fund-Direct Plan

  • 1 साल का रिटर्न: 95.67 %
  • 3 साल का रिटर्न: 33.18 %
  • 5 साल का रिटर्न:  27.90 %

Franklin India Technology Fund-Direct Plan

  • 1 साल का रिटर्न: 66.88 %
  • 3 साल का रिटर्न: 28.37 %
  • 5 साल का रिटर्न: 25.92 %

(यहां ABP News द्वारा किसी भी फंड में निवेश की सलाह नहीं दी जा रही है. यहां दी गई जानकारी का सिर्फ़ सूचित करने का उद्देश्य है. म्यूचुअल फंड निवेश बाज़ार जोखिम के अधीन हैं, योजना संबंधी सभी दस्तावेज़ों को सावधानी से पढ़ें. योजनाओं की NAV, ब्याज दरों में उतार-चढ़ाव सहित सिक्योरिटी बाज़ार को प्रभावित करने वाले कारकों व शक्तियों के आधार पर ऊपर-नीचे हो सकती है. किसी म्यूचुअल फंड का पूर्व प्रदर्शन, आवश्यक रूप से योजनाओं के भविष्य के प्रदर्शन का परिचायक नहीं हो सकता है. म्यूचुअल फंड, किन्ही भी योजनाओं के अंतर्गत किसी लाभांश की गारंटी या आश्वासन नहीं देता है और वह वितरण योग्य अधिशेष की उपलब्धता और पर्याप्तता से विषयित है. निवेशकों से सावधानी के साथ विवरण पत्रिका (प्रॉस्पेक्टस) की समीक्षा करने और विशिष्ट विधिक, कर तथा योजना में निवेश/प्रतिभागिता के वित्तीय निहितार्थ के बारे में विशेषज्ञ पेशेवर सलाह को हासिल करने का अनुरोध है.)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button